मनोरंजन वायरल स्लाइडर

10 करोड़ पुरूषों में SEX करने की क्षमता नहीं…इरेक्टाइल डिसफंक्शन नामक यौन बीमारी की चपेट में

रायपुर। 10 करोड़ पुरूषों में कम होती जा रही है सेक्स करने की क्षमता। पॉर्न विडियों देखने वाले पुरुषों को होने लगी है ये गंभीर बीमारी, ज्यादातर पुरुषों में पॉर्न देखने की आदत होती है, कुछ अपने निजी पलों में इसे इंटरटेनमेंट के लिए देखते हैं तो कुछ अपनी यौन उत्तेजना के लिए। लेकिन पॉर्न देखने का दूरगामी असर सेक्स लाइफ पर पड़ता है। जिससे काफी गंभीर यौन-बीमारी का खतरा रहता है। इस बीमारी से पीडि़त पुरुष अपनी गर्लफ्रेंड या पत्नी को सेक्सुअली संतुष्ट नहीं कर पाता।



इसके साथ ही पोर्न वीडियोज अक्सर देखने पर ये पुरुषों की सेक्सुअल हेल्थ पर खराब असर डालता है और इसी से इरेक्टाइल डिसफंक्शन नामक यौन बीमारी हो जाती है। जिसमें सेक्स करने के दौरान आदमी का लिंग उत्तेजना के अनुसार नहीं हो पाता है और पुरुष अपनी पार्टनर के साथ सेक्स को एंजॉय भी नहीं कर पाते हैं.शोध के अनुसार,इससे वास्तविक जिंदगी में पुरुषों की अपने पार्टनर से सेक्स करने की क्षमता घट जाती है और जो लोग नियमित पोर्न देखतेें हैं. वो असल जिंदगी में सेक्स को उतनी तवज्जो नहीं देते. पोर्न देखने वाले पुरुषों को अपने खास पलों में अपनी पार्टनर के साथ जल्दी उत्तेजना नहीं आ पाती है. जरूरी नहीं है कि इरेक्टाइल डिसफंक्शन सिर्फ पोर्न देखने से ही होती है बल्कि इसका कारण मानसिक और शारीरिक भी हो सकता है. ईडी होने के कारण डाईबिटीज, हाई ब्लड प्रेशस भी हो सकता है और इन बीमारियों का सीधा असर सेक्स लाइफ पर पड़ता है।

यह भी देखें : SEX करना इतना अच्छा लगता था…कि एक लड़की ने अपनाया पोर्न का रास्ता