क्राइम वायरल

Sidhu Moose Wala को घर में घुसकर मारना चाहते थे शूटर, खरीदी थी पुलिस की वर्दी

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में एक के बाद एक कई खुलासे हो रहे हैं. पंजाब के अलावा दिल्ली और महाराष्ट्र की पुलिस भी शूटर्स को गिरफ्तार करने के लिए जोर लगा रही थी, लेकिन कामयाबी दिल्ली पुलिस को मिली और सोमवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 3 शूटर्स को गिरफ्तार कर लिया.

अब जानकारी सामने आई है कि मूसेवाला की हत्या करने वाले शूटर उन्हें घर में घुसकर मारना चाहते थे. इसके लिए शूटर्स ने बकायदा पुलिस की वर्दी भी खरीदी थी.

सिद्धू मूसेवाला के करीब हमेशा सख्त सिक्योरिटी रहती थी. इसलिए कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ ने प्रियव्रत को पुलिस की वर्दी में वारदात करने के लिए कहा था. शूटर साजिश की प्लानिंग कर ही रहे थे कि संदीप केकड़ा ने 29 मई को सिद्धू के बिना सिक्योरिटी घर से निकलने की खबर दे दी.

पुलिस को जेल से मिला फौजी का सुराग
दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल से जुड़े सूत्रों ने बताया कि सिद्धू को गोली मारने वाले प्रियव्रत फौजी का सुराग जेल में बंद एक बदमाश से मिला था. मूसेवाला की हत्या के बाद दिल्ली पुलिस की टीम तमाम जेलों में जाकर बामदशों से पूछताछ कर रही थी. इस दौरान ही जेल में बंद एक बदमाश ने टिप दी, जिसे कई दिनों तक ट्रैक करते हुए दिल्ली पुलिस की टीम गुजरात के मुंद्रा पहुंची.

बिश्नोई-बराड़ चाहते थे मौत की हो चर्चा
कनाडा में बैठा गैंगस्टर गोल्डी बराड़ और जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई हर हाल में सिद्धू को मारना चाहते थे. दोनों चाहते थे कि मूसेवाला की मौत की चर्चा हर तरफ हो. बता दें कि 28 साल के सिद्धू मूसेवाला की हत्या 29 मई को की गई थी. सिंगर के मर्डर की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ ने ली थी. हत्या की प्लानिंग काफी समय पहले की गई थी. दिनदहाड़े हुई इस वारदात ने सभी को चौंका दिया था.

स्पेशल ने गिरफ्तार किए 3 शूटर
सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल 3 शूटर्स को सोमवार को ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गुजरात के मुंद्रा से गिरफ्तार किया है. आरोपियों को दिल्ली की अदालत में पेश किया गया, जहां से तीनों को 4 जुलाई तक पुलिस कस्टडी में भेज गिया गया है. इनके पास से 8 हैंड ग्रेनेड, डेटोनेटर और 36 राउंड पिस्टल बरामद किए गए हैं. एक एके सीरीज की असॉल्ट राइफल भी मिली है.