टेक्नोलॉजी व्यापार

AC हो या फिर फ्रीज और टीवी… ऐसे पता करें इस पर लगी ये रेटिंग सही है या नहीं! ये है तरीका…

जब भी आप कोई इलेक्ट्रॉनिक सामान खरीदने जाते हैं तो उस आइटम के फीचर्स और कीमत के अलावा एक चीज जरूर देखते हैं. इतना ही नहीं इस फैक्टर को अपनी खरीददारी का अहम हिस्सा भी मानते हैं. आप भले ही फ्रीज खरीद रहे हों या फिर एसी या फिर टीवी. हर चीज आप जरूर देखते हैं, क्योंकि यह आपके खर्चे से जुड़ी होती है और उस इलेक्ट्रॉनिक सामान से होने वाली बिजली की खपत के बारे में बताता है. अब आप भी समझ गए होंगे कि हम बात कर रहे हैं, इन प्रोडक्ट पर लगे स्टार रेटिंग की.

दरअसल, स्टार रेटिंग से अंदाजा लगा लिया जाता है कि यह इस सामान से बिजली की कितनी खपत होने वाली है. जिस सामान पर सबसे ज्यादा स्टार की रेटिंग होती है, वो थोड़ा महंगा होता है और माना जाता है कि इससे बिजली की खपत कम होगी. जैसे 5 स्टार रेटिंग वाले सामान का मतलब है कि इससे काफी कम बिजली खर्च होगी. लेकिन, आजकल कुछ ऐसे केस सामने आ रहे हैं, जिनमें पता चल रहा है कि उन प्रोडक्ट पर लगी रेटिंग ही गलत है.

ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं कि यह रेटिंग कौन निर्धारित करता है और कैसे पता किया जा सकता है कि ये रेटिंग असली है या नकली. आज जानते हैं इस रेटिंग का प्रमाणिकता जानने का सही तरीका…

कौन देता है ये रेटिंग?
ये रेटिंग ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिसिएंसी की ओर से दी जाती है. आप इस स्टिकर पर देखेंगे तो इसमें इलेक्ट्रिसिटी कंजप्शन को लेकर जानकारी दी होती है. साथ ही एक साल भी लिखा होता है, जिसके आपको लेटेस्ट साल के आधार पर खरीदना चाहिए. दरअसल, हर साल के हिसाब से बिजली खपत की रेटिंग बदलती रहती है.

कैसे पता करें असली है या नकली?
अगर आप कोई सामान लेने जा रहे हैं तो सबसे पहले आप इस रेटिंग को चेक कर लें. इसे चेक करने के लिए सबसे पहले BEE की आधिकारिक ऐप्लीकेशन डाउनलोड कर लें. इसके बाद जैसे आप इस ऐप्लीकेशन की शुरुआत करेंगे तो आपको देखेंगे कि इसमें कोई तरह के प्रोडक्ट की कैटेगरी होगी, जिसमें एसी, फ्रिज, पंखा आदि शामिल है. इसमें आप अपने पसंद का प्रोडक्ट चुनें और उसमें सभी कंपनियों की रेटिंग दिखेगी. इसके बाद आप इसमें प्रोडक्ट सर्च कर लें, अगर आप जो प्रोडक्ट ले रहे हैं, उसका इसमें नाम है तो समझ जाइए ये सही है. अगर नाम नहीं है तो समझिए वो बीईई में रजिस्टर नहीं है.