वायरल

चलती ट्रेनों में अब सुनाई देगी…चंपी..चंपी…तेल मालिश…की आवाज… पर 20 मिनट के लिए खर्च करने होंगे इतने रुपए…

मध्यप्रदेश के इंदौर से शुरू होकर जाने वाली कोई 39 ट्रेनों में यात्रियों के लिए सिर की चंपी (मालिश) और पैरों की मालिश की सुविधा मुहैया कराने के रेल मंत्रालय के फैसले से यात्रियों में खुशी है, मगर उनका कहना कि चंपी और मालिश का टाइम कम और दरें ज्यादा रखी गई हैं.



रेल मंत्रालय ने दो दिन पहले ही इंदौर से चलने वाली 39 गाडिय़ों में सिर की चंपी और पैरों की मालिश की योजना को मंजूरी दी है। यह मंजूरी नई इनोवेटिव नन-फेयर रेवेन्यू आइडिया स्कीम (एनआईएनएफआरआईएस) पॉलिसी के तहत दी गई है.

इस योजना में शामिल गाडिय़ों में तीन से पांच मालिश करने वाले उपलब्ध रहेंगे. यात्रियों को मालिश की यह सुविधा आरक्षित और वातानुकूलित डिब्बों में मुहैया कराई जाएगी।
WP-GROUP

रेलवे सूत्रों का कहना है कि मालिश सुविधा लेने के एवज में यात्री को 100 रुपये से 300 रुपये तक का भुगतान करना होगा. मालिश की अवधि 15 से 20 मिनट के बीच होगी।

यात्रियों को यह सुविधा गाडिय़ों में सुबह छह बजे से रात 10 बजे तक मिलेगी. हर ट्रेन में मालिश के लिए कुछ बर्थो का निर्धारण किया जाएगा, ताकि अन्य यात्रियों को किसी तरह की परेशानी न हो।

यह भी देखें : 

अब बच्चों से यौन शोषण के दोषियों को नपुंसक बनाएगा यह राज्य…विधेयक पारित…