वायरल

BoyFriend की हरकत से परेशान थी महिला…इसलिए उठाया ऐसा कदम…

File Photo

एक महिला को बॉयफ्रेंड के सिर में गोली मारकर हत्या करने के लिए दोषी करार दिया गया है, लेकिन दो बच्चों की मां ने खुद के बचाव में तर्क दिया कि बॉयफ्रेंड उसके साथ रेप और टॉर्चर करता था। महिला ने कहा कि बॉयफ्रेंड उसे सालों तक टॉर्चर करता रहा। ये मामला न्यूयॉर्क के पुगकीपसी का है। घटना को सितंबर 2017 में अंजाम दिया गया था।

शुक्रवार ने कोर्ट ने 30 साल की महिला निकोले एडिमांडो को सेकंड डिग्री मर्डर का दोषी माना। उसका बॉयफ्रेंड क्रिस्टोफर ग्रोवर जिमनास्टिक कोच के तौर पर काम करते थे।

महिला ने कोर्ट में खुद के बचाव में कहा कि बॉयफ्रेंड उसका यौन शोषण करता था। वहीं, दोषी करार दिए जाने के बाद महिला को 25 साल तक की सजा दी जा सकती है। जून में सजा सुनाई जाएगी।



घटना की रात महिला ने पेट्रोलिंग ऑफिसर को बताया था कि बॉयफ्रेंड के साथ एक घटना हो गई है। अपार्टमेंट में पहुंचने पर पुलिस को ग्रोवर का शव मिला था। सिर पर गोली के निशान थे।

महिला ने कोर्ट में कहा था कि उन्होंने खुद के बचाव में बॉयफ्रेंड की हत्या की। हालांकि, अभियोजकों ने महिला के बयान के खिलाफ तर्क रखे। विशेष अभियोजक चना क्रॉस ने कहा कि वह आत्मरक्षा की घटना नहीं थी। उन्होंने कहा कि मृत क्रिस ग्रोवर घटना के वक्त काउच पर सो रहे थे।
WP-GROUP

यह एक इरादतन की गई हत्या थी। ट्रायल के दौरान करीब 20 गवाहों को पेश किया गया। दोनों पक्षों ने मृत क्रिस ग्रोवर की अलग-अलग छवि पेश की. बचाव पक्ष ने कहा कि महिला के पास इस बात के तर्क हैं कि ग्रोवर उनकी हत्या करने जा रहा था।

वहीं, महिला ने बचाव में कहा कि बॉयफ्रेंड उसे बाथरोब के बेल्ट से गला दबाता था और गर्म चम्मच से शरीर के हिस्से दाग देता था। दोषी करार दिए जाने के बाद कोर्ट में मौजूद कई लोगों की आंखों में आंसू आ गए, वहीं कुछ लोगों के लिए फैसला राहत देने वाला था।

यह भी देखें : 

VIDEO: बाइक में सामान ठूंसकर भरने वाले पढ़ें ये खबर… चलती बाइक में लगी थी आग…फर्राटे भरते रहे दम्पति…भनक तक नहीं हुई…तभी फरिश्ता बनकर आई पुलिस और बच गई तीन जिंदगी…

Share this...
Share on Facebook
Facebook
0Tweet about this on Twitter
Twitter
Print this page
Print

हमसे जुड़ें

Do Subscribe!!!