खेलकूद ट्रेंडिंग

IPL 2021: पंजाब किंग्स के नए बल्लेबाज का गेंदबाजी में कमाल, स्पिन के जाल में फंसाकर निकाला दम

आईपीएल 2021 का दूसरा हिस्सा शुरु होने में ज्यादा वक्त नहीं है और हर टीम इसकी तैयारियों में जुटी है. इस बीच कई टीमों में नए खिलाड़ी भी जु़ड़े हैं क्योंकि कई खिलाड़ियों ने अलग-अलग वजहों से अपना नाम वापस लिया है. ऐसा ही एक खिलाड़ी पंजाब किंग्स में भी आया है, नाम है- एडन मार्करम. दक्षिण अफ्रीका के इस टॉप ऑर्डर के आक्रामक बल्लेबाज को विश्व के नंबर एक टी20 बल्लेबाज इंग्लैंड के डेविड मलान की जगह एक दिन पहले ही शामिल किया था. अब मार्करम की मुख्य भूमिका तो बल्लेबाज के रूप में है और पंजाब ने भी इसी को ध्यान में रखते हुए उन्हें टीम में शामिल किया, लेकिन दक्षिण अफ्रीकी धुरंधर ने गेंदबाजी में भी अपना जलवा दिखाकर पंजाब को खुश होने का मौका दे दिया.

श्रीलंका के साथ टी20 सीरीज खेल रहे साउथ अफ्रीका ने वनडे सीरीज तो गंवा दी लेकिन टी20 सीरीज में अफ्रीकी टीम ने टी20 विश्व कप से ठीक पहले इस फॉर्मेट में अपना दम दिखाते हुए सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर दी और इसमें टीम के स्पिनरों का खास रोल रहा. एडन मार्करम और तबरेज शम्सी ने श्रीलंकाई बल्लेबाजों की बखिया उधेड़ते हुए टीम को आसान जीत दिलाई. शम्सी तो अपनी बेहतरीन स्पिन के जरिए फिलहाल दुनियाभर में तहलका मचाए हुए ही हैं, लेकिन मार्करम ने बल्लेबाजी के अलावा अपनी गेंदबाजी में भी दमदार प्रदर्शन से पंजाब किंग्स के अलावा अफ्रीकी टीम को भी विश्व कप के लिए उम्मीद जगाई है.

मार्करम की गेंदबाजी से श्रीलंका पस्त
कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में रविवार 12 सितंबर को हुए मुकाबले में श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन टीम को इसका कभी भी फायदा होता नहीं दिखा. टीम ने 11वें ओवर तक ही 78 रन पर 5 विकेट गंवा दिए, जिसमें से 3 विकेट मार्करम ने ही झटक डाले. लेकिन, इसके बाद तो मेजबान टीम की हालत और पतली हो गई और सिर्फ 25 रनों पर टीम ने बचे हुए 5 विकेट भी गंवा दिए. श्रीलंकाई टीम 18.1 ओवरों में सिर्फ 103 रन पर ढेर हो गई.

डिकॉक की मैच-जिताऊ फिफ्टी
दक्षिण अफ्रीका के लिए लक्ष्य मुश्किल नहीं था, लेकिन श्रीलंकाई टीम के पास भी कुछ बेहतरीन स्पिनरों की मौजूदगी के कारण ये लक्ष्य आसान नहीं होने जा रहा था. लेकिन अनुभवी ओपनर क्विंटन डिकॉक ने ऐसी किसी भी आशंका को खारिज कर दिया. डिकॉक ने रीजा हेंड्रिक्स के साथ मिलकर 62 रनों की जबरदस्त साझेदारी की. हेंड्रिक्स के आउट होने के बाद क्रीज पर आए मार्करम (21) ने डिकॉक का अंत तक साथ दिया और सिर्फ 14.1 ओवरों में दक्षिण अफ्रीका ने 9 विकेट से ये मुकाबला जीत लिया. डिकॉक ने बेहतरीन अर्धशतक जमाया और 58 रन बनाकर नाबाद रहे.