टेक्नोलॉजी ट्रेंडिंग स्लाइडर

अब आपका फोन चुराने से पहले 100 बार सोचेगा चोर… मोदी सरकार का यह ऐप देता है सुरक्षा…

File Photo

कई बार लोगों का फोन कोई चुरा लेता है, या फिर कई बार लोगों का फोन कहीं गुम हो जाता है, लेकिन उन्हें पता नहीं होता कि फोन कैसे दोबारा पाया जाए. अगर आपका भी फोन कहीं गुम हो गया है तो आपके लिए मोदी सरकार का एक ऐप है. इस ऐप के सहारे आप अपना खोया हुआ फोन या चोरी फोन दोबारा पा सकते हैं.

कुछ महीनों पहले मोदी सरकार में टेलीकॉम मंत्री रहे रविशंकर प्रसाद ने महाराष्ट्र में एक वेब पोर्टल लॉन्च किया था. इस वेब पोर्टल के जरिए आप अपने चोरी हुए फोन की शिकायत दर्ज करा सकते हैं. यह प्रोजेक्ट शुरूआत में सिर्फ महाराष्ट्र के लिए था लेकिन मोदी सरकार ने वादा किया था कि जल्द ही इसे पूरे देश में लागू किया जाएगा.

यदि आपका फोन भी चोरी हो गया है तो आपको इसके लिए एक FIR फाइल करनी होगी. FIR फाइल करने के बाद आपको हेल्पलाइन नंबर 14422 के जरिए टेलीकॉम डिपार्टमेंट को सूचना देनी होगी. जैसे ही आप पुलिस में शिकायत दर्ज कराएंगे, वैसे ही टेलीकॉम डिपार्टमेंट आपके फोन का IMEI नंबर ब्लॉक कर देगा.

इसके बाद अगर कोई आपके फोन पर किसी भी मोबाइल नेटवर्क का इस्तेमाल नहीं कर सकेगा. वह जैसे ही कोई नेटवर्क का इस्तेमाल करने के बारे में सोचेगा. IMEI नंबर की मदद से आपका सेल्युलर ऑपरेटर उस फोन को नेटवर्क का इस्तेमाल करने से रोकेगा.

टेलीकॉम डिपार्टमेंट ने साल 2017 के जुलाई महीने मेें C-DoT को मोबाइल ट्रैकिंग प्रोजेक्ट सेंट्रल इक्विपमेंट आइडेंटिटी रजिस्टर यानि CEIR सौंपा था. CEIR आईएमईआई नंबरों का डेटाबेस है. CEIR का उद्देश्य मोबाइल की चोरी पर रोक लगाना था. CEIR सेट-अप लगाने के लिए मोदी सरकार ने 15 करोड़ रुपए आवंटित किया था.

CEIR सिस्टम आपका फोन चोरी होने के बाद आपके फोन में मौजूद सभी सेवाओं को ब्लॉक कर देता है. यदि चोर आपके फोन में नया सिम लगाता भी है तो वह किसी काम का नहीं होगा. IMEI नंबर बदलने का भी उसे कोई फायदा नहीं होगा.

विज्ञापन

हमसे जुड़ें

Do Subscribe

JOIN us on Facebook