व्यापार स्लाइडर

सोना हो गया इतना सस्ता… जानें- कीमतों में गिरावट की बड़ी वजह…

File Photo

पिछले साल अगस्त में सोना रिकॉर्ड 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर से ऊपर पहुंच गया था. लेकिन अगस्त के बाद से सोने में गिरावट का दौर जारी है. अब तक अगस्त के भाव से सोना करीब 11 हजार रुपये सस्ता हो चुका है. घरेलू में बाजार में सोना गिरकर 45 हजार रुपये से नीचे पहुंच गया है.

दरअसल, दो मार्च को सोने की वायदा कीमत 44,760 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गई थी. जबकि 3 मार्च को सोना का वायदा भाव 45,500 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया. वहीं घरेलू बाजार में भी सोने की कीमत में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है.



सर्राफा बाजार में बुधवार को 22 कैरेट 10 ग्राम सोने का भाव 44,370 रुपये था, जबकि 24 कैरेट 10 ग्राम सोने का भाव 45,370 रुपये रहा. सोने के लिए साल 2021 अब तक अच्छा नहीं रहा है. एक जनवरी से अब तक सोना 5,540 रुपये से ज्यादा सस्ता हो चुका है. 1 जनवरी को सोना 50,300 रुपये प्रति 10 ग्राम था.

अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी गोल्ड पर दबाव सोने में मंदी के पीछे अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने के भाव में दबाव को एक कारण माना जा रहा है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना 1,719 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस हो गया. वैश्विक वायदा भाव कॉमेक्स पर सोना 1,733 डॉलर प्रति औंस पर है.

गिरावट के पीछे एक यह भी वजह वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्‍त वर्ष 2021-22 के बजट में सोने और चांदी पर आयात शुल्क में 5 फीसदी की कटौती का ऐलान किया था. फिलहाल सोने-चांदी पर 12.5% आयात शुल्क देना होता है. इस कटौती के बाद अब सिर्फ 7.5% आयात शुल्क लगेगा. जिससे कीमतों में गिरावट देखने को मिल रही है.

मंगलवार को चांदी भी 1,847 रुपये लुढ़ककर 67,073 रुपये प्रति किलो ग्राम रही. सोमवार को चांदी का भाव 68,920 रुपये प्रति किलो ग्राम पर बंद हुआ था. हालांकि बुधवार को चांदी में हल्की तेजी देखी गई, कीमत 67900 रुपये प्रति किलोग्राम रही.



गौरतलब है कि पिछले साल सोने ने निवेशकों को जबर्दस्त रिटर्न दिया. कोरोना संकट के बीच शेयर बाजार गिर रहे थे और सोने की चमक बढ़ रही थी. जनवरी-2020 में सोना करीब 40000 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास था, जो अगस्त में बढ़कर 56 हजार से ऊपर पहुंच गया था.