छत्तीसगढ़ स्लाइडर

बेटे का फर्ज निभाते बहू और बेटी ने दिया कंधा…रूढ़ीवादी परंपराओं को तोड़ समाज में पेश की मिशाल…

नगरी। रूढ़ीवादी परंपराओं को तोड़ बेटे का फर्ज निभाते हुए आज एक बहू ने अपने ससुर को कांधा दिया। भाभी का साथ ननद ने भी दिया और अपने पिता को कंधा देकर समाज में मिशाल कायम की। हालांकि मुखाग्नि नाती ने दी।

ग्राम देऊरपारा (कर्णेश्वर धाम) के निवासी मोहन लाल साहू का आज शनिवार को अस्वस्थता के चलते निधन को हो गया। वह पहले साहू समाज परिक्षेत्र सिरसिदा के अध्यक्ष भी रह चुके हैं।



परिवार में एक पुत्र था दीपक साहू जिसका निधन वर्षों पहले हो चुका है। तीन लड़कियां जिनकी शादी हो चुकी है। वर्तमान में पत्नी,बहू और दो नाती साथ में रहते थे। पत्नी और बहू अंत समय तक सेवा करती रही।

आज अंतिम यात्रा में रूढ़ीवादी परंपराओं को तोड़ बेटे का फर्ज निभाते बहू रूमान साहू और बेटी ने कंधा देकर समाज में मिशाल कायम की और मुखाग्नि उनके नाती साहिल साहू ने दी। इनकी अंतिम यात्रा में ग्रामीण साहू समाज के लोग, ग्रामवासी एवं परिवार जन शामिल हुए।

विज्ञापन

loading…

हमसे जुड़ें

Do Subscribe

JOIN us on Facebook