छत्तीसगढ़ सियासत स्लाइडर

छत्तीसगढ़: 72 फीसदी आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर…राज्य सरकार के अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के खिलाफ बताया…

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा लागू किए गए 72 फीसदी आरक्षण मामले में हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। याचिकाकर्ता ने आरक्षण को असंतुलित बताते हुए राज्य सरकार के अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के खिलाफ बताया है।



बिलासपुर के रहने वाले अधिवक्ता आदित्य तिवारी ने आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने 1992 में इंदिरा साहनी बनाम भारत संघ के फैसले में ये आदेश है कि किसी भी राज्य में 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण लागू नहीं किया जा सकता है।


WP-GROUP

इस आदेश में आरक्षण के लिए फार्मूला बनाया गया है जिसे ध्यान में रखते हुए आरक्षण नीति लागू करना चाहिए। याचिका में कहा गया है कि 72 फीसदी आरक्षण से रोस्टर में सामान्य वर्ग के लिए जगह ही नहीं बची है। जिससे मध्यम वर्गीय सामान्य परिवार को सबसे ज्यादा नुकसान होगा।

यह भी देखें : 

BREAKING:अमित जोगी अपोलो से डिस्चार्ज…किया गया मेदांता रेफर…जोगी कांग्रेस का आरोप…प्रदेश सरकार ने अभी तक नहीं की भेजने की व्यवस्था… उल्टा फैला रहे हैं भ्रामक जानकारी…