Breaking News छत्तीसगढ़ स्लाइडर

छत्तीसगढ़: नान के उप-लेखाधिकारी के यहां EOW का छापा…करोडों की चल-अचल संपत्ति के कागजात…बेंगलुरु में भी टीम ने दी दबिश…

रायपुर। आय से अधिक संपत्ति के मामले में नान के उपलेखा अधिकारी चिंतामणि चंद्राकर के विभिन्न ठिकानों में यह ईओडब्लू ने छापा मारा है। नान (छत्तीसगढ़ स्टेट सिविल सप्लाई कारपोरेशन लिमिटेड) उत्तर बस्तर कांकेर में पदस्थ उप-लेखाधिकारी चिंतामणि चंद्राकर के 4 ठिकानों पर ईओडब्ल्यू की टीम ने एक साथ दबिश दी है।

चिंतामणि चंद्राकर के खिलाफ पदस्थापना के दौरान आय से अधिक स्रोत, कई गुना अधिक चल-अचल संपत्ति अर्जित करने की सूचना ब्यूरो को मिली थी, जिसके आधार पर कार्रवाई की गई है।



चिंतामणि चंद्राकर के मकान नंबर जे-1 आदर्श नगर, दुर्ग उसके बेटे फ्लैट नंबर 303 सी ब्लॉक एनसीसी मीडोज फेस वन बल्लापुर रोड, बेंगलुरु, चिंतामणि के ससुराल आदर्श नगर दुर्ग और कांकेर स्थित कार्यालय में एक साथ टीम ने छापेमारी की है।

टीम के हाथ महत्वपूर्ण दस्तावेज लगे है। इन कागजातों में चिंतामणि चंद्राकर द्वारा स्वयं के नाम से तथा परिवार के सदस्यों के नाम से करोड़ों की चल-अचल संपत्ति की पुष्टि हुई है।
WP-GROUP

उल्लेखनीय है कि चिंतामणि चंद्राकर की नियुक्ति नान में उप-लेखाधिकारी के पद पर हुई थी। वहां अधिकारियों से सांठगांठ करके उन्होंने पद का दुरुपयोग किया है। 2015 में ब्यूरो द्वारा नान के विभिन्न दफ्तरों में की गई छापेमारी में मिले दस्तावेजों में भी चिंतामणी चंद्राकर की संलिप्तता पाई गई थी। उस वक्त से भी यह टारगेट में था और टीम को जांच पड़ताल में लगाया गया था।

यह भी देखें : 

छत्तीसगढ़: कांग्रेस नेत्री के बेटे ने किया लड़की का अपहरण…अश्लील हरकात भी…छीन लिया मोबाइल…जानें क्या है मामला…