छत्तीसगढ़ सियासत

संसदीय सचिव: जनता से है न्याय की उम्मीद: भूपेश

कानूनी आधार पर हो कार्रवाई: जोगी

रायपुर। संसदीय सचिव का मामला दिल्ली में गरमाने के बाद छत्तीसगढ़ में भी राजनीति उबाल मारने लगी है। इस संबंध में भूपेश बघेल ने अपने ट्वीटर एकाउंट पर लिखा है कि आप के विधायकों को अयोग्य करार दिया जा सकता है तो छत्तीसगढ़ के भाजपा विधायकों को क्यों नहीं? यहां तो मामला लाभ के पद का भी है और कोर्ट के आदेश के बावजूद सुविधाओं का लाभ उठाने का भी। हमें न्याय की पूरी उम्मीद है। उच्च न्यायालय में भी और जनता की अदालत में भी। उन्होंने अपने ट्वीटर में जो लिखा है उससे साफ है इस बार 2018 के विस चुनाव में कांग्रेस इस मामले को चुनावी मुद्दा बना सकती है। अगर दिल्ली में आप विधायकों के खिलाफ फैसला आता है तो बैठे-बैठ कांग्रेस को एक मुद्दा मिल जाएगा। कांग्रेसी नेता मो. अकबर हाईकोर्ट में मामले को पहले ही लड़ रहे हैं। संसदीय सचिव के मामले में जनता कांग्रेस के सुप्रीमों अजीत जोगी कहना है कि मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है। यदि कानूनी आधार पर कोई फैसला आता है तो छत्तीसगढ़ के विधायकों पर भी कार्रवाई होनी चाहिए।