टेक्नोलॉजी यूथ वायरल

सोशल मीडिया का प्रयोग रिलेशनशिप में पैदा कर रहा है दूरियां…जाने कारण…

नई दिल्ली। आज हम सोशल मीडिया की दुनिया में इतना डूब चुके हैं कि अब इसका असर हमारे रिश्तों पर भी साफ दिखने लगा है। पार्टनर से ज्यादा अब हम सोशल मीडिया पर अपना समय व्यतीत करते हैं। साथी साथ है या नहीं हम अपनी ऑनलाइन दुनिया में बिंदास मस्त रहते हैं।

ऐसा करते समय क्या आपने कभी सोचा है कि सोशल मीडिया की तरफ बढ़ते आपके रुझान का नकारात्मक प्रभाव सीधे आपके रिलेशनशिप पर पड़ रहा है। ये आपके हमसफर और आपके बीच दूरियां पैदा कर रहा है। सुनकर थोड़ा अटपटा जरूर लग सकता है लेकिन हाल ही में हुई एक नई स्टडी तो ऐसा ही कुछ दावा कर रही है।

प्लोस वन में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक अगर आप सोशल मीडिया पर जरूरत से ज्यादा समय दे रहे हैं तो ऐसा करने से आपके रिश्ते पर गलत असर पड़ रहा है। बता दें, इस स्टडी को कार्नेगी मेलोन यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ कनसास के शोधकर्ताओं ने पूरा किया है।



शोधकर्ताओं ने 5 स्टडियों का एकसाथ अध्यन करते हुए इस रिपोर्ट को तैयार किया है। इस रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा किया गया है कि सोशल मीडिया पर अपने रिश्तों को ज्यादा शेयर करने से भी आपकी रिलेशनशिप में समस्याएं आ सकती हैं।

स्टडी में कहा गया कि सोशल मीडिया पर खुद के बारे में या अपनी व्यक्तिगत जानकारी अधिक बार साझा करने से आपके पार्टनर के मन में ये धारणा बन सकती है कि आपकी लाइफ में उनका खासा महत्तव नहीं है। इसकी वजह से आपका पार्टनर खुद को अकेला महसूस कर सकता है।
WP-GROUP

अब आप सोच रहे होंगे कि फिर इस परेशानी का हल क्या है. तो आपको बता दें, स्टडी में इस समस्या का एक हल भी बताया गया है. इस स्टडी को करने वाले एक शोधकर्ता ओमरी गिलैथ कहते हैं कि अगर आप सोशल मीडिया पर अपनी व्यक्तिगत जानकारी की जगह अपने रिश्तों के बारे में लिखते समय अपने पार्टनर को भी उस पोस्ट का हिस्सा बनाएंगे तो ऐसा करने से आपके रिश्तों में खटास कम हो सकती है।

यही नहीं ऐसा करने से आपके पार्टनर के बीच दूरियां कम होने के साथ आप एक दूसरे के करीब आ सकते हैं। उदाहरण के लिए अगर आप अपने रिलेशनशिप स्टेटस को सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं तो ऐसा करने से आपके रिश्तें में प्यार बढ़ता है।

यह भी देखें : 

छत्तीसगढ़ : प्रेमिका की मांग से परेशान इस कांग्रेस नेता की थी आत्महत्या…

Share this...
Share on Facebook
Facebook
0Tweet about this on Twitter
Twitter
0Print this page
Print