छत्तीसगढ़ स्लाइडर

कोरोना पॉजिटिव डॉक्टर कर रही थीं इलाज… कलेक्टर ने क्लीनिक कराया सील, जांच के दौरान वहीं मिली महिला डॉक्टर…

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर कहर बनकर सामने आई है। सरकार और प्रशासन की ओर से गाइडलाइन के साथ तमाम सख्ती को लेकर आदेश जारी किए गए हैं। इसके बावजूद अंबिकापुर शहर की एक महिला डॉक्टर ने बेशर्मी और लापरवाही की हद पार कर दी। खुद कोरोना संक्रमित होने के बावजूद वह क्लीनिक जाकर मरीजों का इलाज कर रही थी। जानकारी मिलने पर शुक्रवार शाम कलेक्टर ने क्लीनिक को सील करा दिया है।

जानकारी के मुताबिक, शिवधारी कॉलोनी निवासी डॉ. प्रज्ञा अग्रवाल डेंटिस्ट हैं, और गुदरी चौक पर टूथ फेयरी डेंटल क्लीनिक का संचालन करती हैं। उनकी कोरोना रिपोर्ट गुरुवार को ही पॉजिटिव आई थी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें होम आइसोलेशन में रहने के लिए निर्देशित किया था। इसके बावजूद वह शुक्रवार को अपने क्लीनिक पहुंच गईं और वहां मरीजों का उपचार करना शुरू कर दिया। इसकी सूचना किसी ने कलेक्टर को दे दी।

जानकारी मिलते ही कलेक्टर संजीव कुमार झा ने मौके पर नायब तहसीलदार किशोर कुमार वर्मा को भेजा। जांच के दौरान शिकायत सही मिलने पर क्लीनिक को सील कर दिया गया। वहीं डॉक्टर के खिलाफ भी महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। नायब तहसीलदार वर्मा ने बताया कि महिला डॉक्टर स्टाफ के साथ काम कर रही थीं। हालांकि क्लीनिक बंद था, लेकिन आसपास के लोगों ने उसके खुले होने की पुष्टि की।