खेलकूद ट्रेंडिंग

IND vs NZ सीरीज में दांव पर WTC के पॉइंट्स, कानपुर टेस्ट से पहले भारत का है ऐसा हाल

भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच आज से दो मैचों की टेस्ट सीरीज की शुरुआत हो रही है. सीरीज का पहला मुकाबला कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम (Green Park Stadium) में शुरू हो रहा है. इस सीरीज के साथ ही दोनों टीमें एक बार फिर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल वाली प्रतिद्वंद्विता को आगे बढ़ाएंगे. उस फाइनल में कीवी टीम ने भारत को हराकर पहले विश्व टेस्ट चैंपियन का खिताब अपने नाम किया था. अब टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) का दूसरा चक्र शुरू हो गया है और बतौर विश्व चैंपियन न्यूजीलैंड अपने खिताब की रक्षा की शुरुआत ही भारतीय टीम के खिलाफ करेगी. कीवी टीम की इस चैंपियनशिप में पहली ही सीरीज है, जबकि भारतीय टीम पहले ही अपनी एक सीरीज खेल चुकी है और अपना खाता खोल चुकी है. ऐसे में ये जानना जरूरी है कि इस सीरीज से पहले टेस्ट चैंपियनशिप टेबल (WTC Points Table) की स्थिति क्या है.

अगस्त में भारत और इंग्लैंड के एजबेस्टन में पहले टेस्ट के साथ ही विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत हुई थी. भारत और इंग्लैंड के बीच इस सीरीज के 5 में से 4 टेस्ट खेल गए, जबकि पांचवां मैच कोविड के कारण रद्द करना पड़ा था, जो अब अगले साल खेला जाएगा. इस सीरीज में हार-जीत और ड्रॉ भी देखा गया और दोनों टीमें पॉइंट्स हासिल करने में सफल रहीं. भारत और इंग्लैंड के अलावा सिर्फ पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच एक सीरीज खेली गई थी. दो मैचों की इस सीरीज में दोनों टीमों ने एक-एक मैच जीतकर अपना खाता खोला था.

भारत पहले स्थान पर
टीम इंडिया की नई सीरीज शुरू होने से पहले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप पॉइंट्स टेबल की स्थिति बेहद मजेदार है. चार टेस्ट मैच खेलने के बाद भारतीय टीम टेबल में सबसे ऊपर है. टीम इंडिया ने दो मैच जीते हैं, जबकि एक हार और एक ड्रॉ रहा है. इस तरह भारत के खाते में 26 पॉइंट्स आए है. लेकिन इस बार पॉइंट्स के बजाए पॉइंट्स पर्सेंटेज सिस्टम का इस्तेमाल किया जा रहा है और इस तरह 48 पॉइंट्स में से 26 हासिल करते हुए भारत के 54.17 पॉइंट पर्सेंटेज हैं. वहीं दूसरे स्थान पर पाकिस्तान और वेस्टइंडीज 50-50 पर्सेंटेज (12-12 पॉइंट्स) के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर हैं. तीसरे स्थान पर इंग्लैंड (14 पॉइंट्स) 29.17 पर्सेंटेज के साथ है.

पॉइंट्स सिस्टम में बदलाव
आईसीसी ने पिछली टेस्ट चैंपियनशिप के पॉइंट्स सिस्टम में बदलाव किया था और इस बार हर मैच का मूल्य 12 पॉइंट्स कर दिया. इस तरह हर टीम को पॉइंट्स का बंटवारा पॉइंट्स पर्सेंटेज के हिसाब से होगा. यानी जितने पॉइंट्स के लिए मुकाबला किया है, उसमें से जितने भी पॉइंट्स हासिल करेंगे, उसका पर्सेंटेज निकाला जाएगा और वही टेबल में रैंकिंग तय करेगा. पिछली चैंपियनशिप में हर सीरीज के लिए 60 पॉइंट्स तय किए गए थे, जिस पर सवाल उठे थे. हालांकि, इस बार भी सभी टीमें 6-6 सीरीज ही खेलेंगी, जिसमें 3 अपने घर में और 3 विदेशों में खेली जानी हैं. टीम इंडिया अपनी पहली विदेशी सीरीज इंग्लैंड में खेल चुकी है और अब पहली घरेलू सीरीज न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलेगी. इस सीरीज से पूरे 24 पॉइंट्स हासिल कर टीम इंडिया पहले स्थान पर अपनी बढ़त को मजबूत कर सकती है.