Breaking News ट्रेंडिंग देश -विदेश स्लाइडर

भारत में 24 घंटे में 1.15 लाख नए केस… टूटे अब तक के सारे रिकॉर्ड…

कोरोना की रफ्तार देश भर के लिए चिंता का सिग्नल भेज रही है. वर्ल्डोमीटर के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 1.15 लाख नए केस सामने आए हैं. यह दूसरी बार है जब कोरोना के मामले एक दिन में एक लाख के पार पहुंचे हैं. इससे पहले बीते रविवार को 24 घंटे में संक्रमण के 1,03,558 नए मामले सामने आए थे. यह भारत में कोरोना की अब तक की सबसे बड़ी दैनिक उछाल है. इसी के साथ देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 12,799,746 हो गए हैं. इसी के साथ देश में सक्रिय मामलों ने 800,000 का आंकड़ा पार कर लिया है और अब 843,779 है.

भारत अब एक्टिव केस के मामले में चौथा सबसे बड़ा देश बन गया है. वहीं, पिछले 24 घंटे में 631 लोगों की मौत हुई है. इसी के साथ घातक संक्रमण से मरने वालों की संख्या 166,208 पहुंच गई है. एक विश्लेषण के अनुसार, कोविड -19 की दूसरी लहर, पहली लहर की तुलना में ज्यादा घातक सिद्ध होती दिख रही है. कुल मामलों में पांच सबसे अधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र (3,113,354), केरल (1,137,590), कर्नाटक (1,020,434), आंध्र प्रदेश (909,002), और तमिलनाडु (903,479) हैं.

कोरोना के आंकड़े लगातार सावधान रहने की ओर इशारा कर रहे हैं. सबसे चिंताजनक हालत महाराष्ट्र और मुंबई की है- महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 55,000 नए मामले सामने आए हैं. वहीं, मुंबई में 24 घंटे में नए केस का आंकड़ा 10 हजार के पार जा पहुंचा है तो दिल्ली में ये आंकड़ा 5 हजार पार चला गया है. सितंबर 2020 के बाद यह पहली बार है जब दिल्ली में नए मामलों का आंकड़ा पांच हजार के पार पहुंचा है. पिछले 24 घंटे में दिल्ली में कोरोना के 5,100 नए मामले दर्ज किए गए. वहीं 17 लोगों की मौत हुई है.

दिल्ली के आंकड़े…
20 मार्च को दिल्ली में कोरोना पॉजिटिविटी रेट 1.07 फीसदी था, कोरोना के केस 813 थे, और 2 लोगों की मौत हुई थी.

25 मार्च में दिल्ली में कोरोना पॉजिटिविटी रेट 1.69 फीसदी हो गया, कोरोना केस 1,515 हो गए और कोरोना से 5 लोगों को मौत हुई.

1 अप्रैल को दिल्ली में कोरोना पॉजिटिविटी रेट 3.57 फीसदी हो गया, कोरोना केस 2790 हो गए और कोरोना से 9 लोगों को मौत हुई.

2 अप्रैल को कोरोना पॉज़िटिविटी रेट बढ़कर 4.11 फीसदी हो गया, कोरोना केस 3,594 और 14 लोगों की मौत हो गई.

3 अप्रैल को कोरोना पॉज़िटिविटी रेट बढ़कर 4.48 फीसदी हो गया कोरोना केस 3,567 और 16 लोगों की मौत हो गई.

4 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 4.64 फीसदी हो गया कोरोना केस 4,033 और 21 लोगों की मौत हो गई.

5 अप्रैल को पॉज़िटिविटी रेट बढ़कर 5.54 फीसदी हो गया कोरोना केस 3548 और 10 लोगों की मौत हुई.

कोरोना ने समूचे देश को खौफ में डाल डिया है. दूसरी लहर का तांडव ऐसा है कि पहली लहर भी पीछे छूट गई है. कोरोना संक्रमण ने देश के कई राज्यों में तेज रफ्तार पकड़ी है. दिल्ली में कोरोना नहीं संभला तो नौबत लॉकडाउन की तरफ बढ़ सकती है, दिल्ली में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. जिसके तहत रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगेगा. दिल्ली में कोरोना का पॉज़िटिविटी रेट 5 फीसदी से ज़्यादा है. दिल्ली में पिछले 4 दिन से रोजाना साढ़े 3 हजार से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं. इसी के साथ दिल्ली के अस्पतालों में ICU और वेंटिलेटर की दिक्कत भी शुरू हो गई है.

दिल्ली में कोविड-19 टेस्ट का पॉजिटिविटी रेट सोमवार को 5 प्रतिशत से ज्यादा हो गया, सिर्फ 15 दिन के भीतर पॉजिटिविटी रेट 1.07% से बढ़कर 5.54% हो गया है. एक्सपर्ट कह रहे हैं कि कोरोना टेस्ट का पॉजिटिविटी रेट 5 फीसदी से ऊपर जाना ये बता रहा है कि संक्रमण कंट्रोल नहीं हो पा रहा है. दिल्ली में कोरोना की ये चौथी लहर है. इस लहर में कोरोना संक्रमण उतना ही घातक है, जितना कि पहले था. खासतौर से बुजुर्गों और पुरानी बीमारी वालों के लिए ये लहर ज्यादा घातक साबित हो रही है.

नाइट कर्फ्यू के दौरान ट्रैफिक मूवमेंट पर कोई रोक नहीं लगेगी. दिल्ली मे 24 घंटे वैक्सीन लगा रही है. इस दौरान जो वैक्सीन लगवाना चाहते हैं, उनको छूट होगी, लेकिन ई-पास लेना होगा. राशन, किराना, फल, सब्ज़ी, दूध, दवा से जुड़े दुकानदारों को ई पास के जरिए मूवमेंट की छूट होगी.

नाइट कर्फ्यू सिर्फ दिल्ली में ही नहीं लगा है, बल्कि दिल्ली समेत 6 राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगाया है.

दिल्ली में नाइट कर्फ्यू- रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक (30 अप्रैल तक)

महाराष्ट्र में नाइट कर्फ्यू- रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक (शनिवार-रविवार)

पंजाब में नाइट कर्फ्यू- रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक (9 शहरों में)

राजस्थान में नाइट कर्फ्यू- रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक (10 शहरों में)

ओडिशा में नाइट कर्फ्यू- रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक (10 जिलों में)

गुजरात में नाइट कर्फ्यू- रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक (4 शहरों में)

दिल्ली में फैलते कोरोना ने केजरीवाल सरकार के भी होश उड़ा दिए हैं. पिछले 6 दिन के भीतर दिल्ली में कोविड से 81 मरीजों की मौत हुई है. इनमें मंगलवार को हुईं 17 मौतें भी शामिल हैं. दिल्ली में कोरोना के ये लहर पहली लहर से बहुत ज्यादा तेज है. दिल्ली में लगातार 5वें दिन 3,500 से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं. जबकि दूसरी बार 5 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं.