देश -विदेश

जम्म-कश्मीर में कड़ाके की ठंड, हिमस्खलन की चेतावनी

नयी दिल्ली। देश के उत्तरी भागों में जबर्दस्त ठंड का दौर जारी रहा और आज लद्दाख क्षेत्र के दो जिलों समेत जम्मू कश्मीर के 15 जिलों के लिए हिमस्खलन की एक चेतावनी जारी की गई। हिमाचल प्रदेश में भी स्थिति बेहतर नहीं है और राज्य के ऊंचाई वाले इलाकों में तापमान शून्य से 12 डिग्री नीचे और शून्य से 18 डिग्री नीचे के बीच बना हुआ है। द स्नो एंड एवलांच स्टडी इस्टेब्लिशमेंट (एसएएसई) ने जिलों में निम्न खतरे के स्तर 1 और स्तर 2 हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है। जम्मू कश्मीर सरकार ने लोगों से ऐहतियाती कदम उठाने के लिए कहा है। श्रीनगर में एक अधिकारी ने बताया कि पुंछ, राजौरी, रियासी, रामबन, डोडा, किश्तवाड, ऊधमपुर, अनंतनाग, कुलगाम और बडगाम के ऊपरी इलाकों के लिए अगले 24 घंटे के लिए चेतावनी जारी की गई है। अन्य जिलों में कुपवाड़ा, बांदीपुरा, गंदेरबल और कारगिल तथा लद्दाख क्षेत्र में लेह शामिल हैं। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.1 डिग्री नीचे दर्ज किया गया जबकि कारगिल कल रात शून्य से 20.2 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान होने के साथ राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा। लेह में तापमान शून्य से 14.6 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया जबकि काजीगुंड में शून्य से 4.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। हिमाचल प्रदेश के ज्यादातर स्थानों पर भी ठंड का जबर्दस्त प्रकोप बना हुआ है। किलोंग के कुछ स्थानों पर तापमान शून्य से 6.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। शिमला में मौसम कार्यालय ने बताया कि मनाली में तापमान शून्य से 0.6 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। भुंतर और सुंदरनगर में तापमान क्रमश: जीरो डिग्री सेल्सियस और 1.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री दर्ज किया जो सामान्य से तीन डिग्री कम था। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने यहां बताया कि हालांकि दिन में तापमान बढकर 25.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जो सामान्य से पांच डिग्री अधिक था। उत्तर प्रदेश के दूरदराज के क्षेत्रों में शीतलहर और कोहरा बना हुआ है। मुजफ्फरनगर क्षेत्र में सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान 2.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।