छत्तीसगढ़

स्मार्ट सिटी : यूजर्स चार्ज वसूलने पर कर दाताओं ने जताई नाराजगी

रायपुर। नगर पालिक निगम रायपुर द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत घर-घर सूखा कचरा गीला कचरा रखने के लिए डस्टबीन का वितरण किया जा रहा है। साथ ही वितरणकर्ता द्वारा 50 रू प्रतिमाह यूजर्स चार्ज डोर टू डोर कचरा उठाने का लेने की जानकारी भी आम लोगों को दी जा रही है। इस संबंध में शहर के अनेक करदाताओं ने नगर निगम द्वारा संपत्तिकर वसूली के दौरान जल मल कर वसूली करने के बावजूद भी यूजर्स चार्ज वसूली करने पर सख्त आपत्ति व्यक्त की है।
ज्ञातव्य है कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत एवं पीएम मोदी के आव्हान पर स्वच्छता मिशन प्रदेश सहित पूरे देशभर में शहरों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में जोर शोर से चलाया जा रहा है। नगर पालिक एवं नगर निगम क्षेत्रों में निगम/पालिका द्वारा साल में एक बार संपत्ति कर के साथ ही जल मल कर की वसूली की जाती है। इसके बाद भी यूजर्स चार्ज वसूली करना लोगों की दृष्टि में निगम/पालिका द्वारा लिया गया मनमाना निर्णय है जिसे करदाताओं के अनुसार जनहित में वापस लेना चाहिए। शहर के प्रबुद्ध नागरिकों ने नगरीय प्रशासन मंत्री द्वारा कचरा एकत्र द्वार-द्वार किये जाने पर यूजर्स चार्ज 50 रू प्रतिमाह लेने के निर्णय को वापस लेने की मांग करते हुये इस संबंध में महापौर एवं आयुक्त को सख्त निर्देश देने की मांग की है।