टेक्नोलॉजी देश -विदेश वायरल स्लाइडर

जवानों को भी लगा PUBG गेम का चस्का!…CRPF ने कहा- क्षमता पर पड़ रहा बुरा असर…

सीआरपीएफ के आंतरिक सर्वे में एक चौकाने वाली बात सामने आई है कि जवानों को मोबाइल गेम PUBG की लत लग रही है। इस मामले के संबंध में सीआरपीएफ ने अपने कमांडिंग अफसरों को निर्देश दिया है कि वह जवानों के PUBG गेम खेलने पर रोक लगाएं।

सीआरपीएफ का मानना है कि ये गेम खेलने से जवानों की ऑपरेशनल क्षमता प्रभावित हो रही है। जानकारी के मुताबिक सीआरपीएफ ने कहा कि सेना के जवान PUBG गेम की लत के कारण अपने साथी जवानों से मेलजोल भी कम कर रहे हैं और गेम खेलने के कारण शारीरिक गतिविधियों के कम होने से जवानों की नींद भी पूरी नहीं हो पा रही है।



दरअसल PUBG गेम की लत से किशोर और बच्चे बुरी तरह से प्रभावित हो रहे हैं। इसी के चलते बिहार की सीआरपीएफ यूनिट ने 6 मई को एक सर्कुलर जारी किया है, जिसमे देखा गया है कि सीआरपीएफ के जवानों को भी इस गेम की लत लग गई है।

इस गेम की लत के कारण जवानों की ऑपरेशनल क्षमता प्रभावित होने के साथ ही वे आक्रामक हो रहे है साथ ही उनके साथ एटीट्यूड संबंधी समस्याएं देखने को मिल रही हैं।
WP-GROUP

इस मामले के बाद सभी सभी डीआईजी को उनके तहत आने वाले CRPF जवानों को इस तरह के एप को डिलीट करना सुनिश्चित कराने को कहा गया है। साथ ही कंपनी कमांडर को उनके सभी जवानों के फोन की औचक जांच और फोन में एप मिलने पर उसे तुरंत डिलीट करने को कहा गया है।

बता दें कि इस सर्कुलर को सभी सीआरपीएफ फोर्मेशंस और बल के एंटी इनसरजेंसी कोबरा यूनिट को भेजा गया है। सीआरपीएफ के अधिकारी के कहा कि यह आदेश सीआरपीएफ के सभी फॉर्मेशंस पर लागू होगा।

यह भी देखें : 

पीली साड़ी वाली महिला: पति की हो चुकी है मौत…बेटे के लिए फिल्मों का ऑफर ठुकराया…

हमसे जुड़ें

Do Subscribe!!!