रायपुर में युवक का अपहरण, कवर्धा से हुआ बरामद... » द खबरीलाल                  
Breaking News क्राइम छत्तीसगढ़ रायपुर

रायपुर में युवक का अपहरण, कवर्धा से हुआ बरामद…

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शुक्रवार रात करीब 9 बजे सरेआम कारोबारी का अपहरण हो गया। ये कांड वैसे ही हुआ जैसे फिल्मी सीन में होता है।

बदमाशों का गैंग आया और कारोबारी को घेरकर गाड़ी में साथ बैठाकर ले गया। कोई कुछ नहीं कर सका। ये वारदात डंगनिया मोड़ सुंदर नगर इलाके में हुई।

सूचना मिलने के बाद पुलिस ने पूरे शहर में नाकेबंदी कर दी, और बदमाशों की तलाश में जुट गई। रात करीब 1 बजे के आस-पास कारोबारी युवक कवर्धा में मिला। आरोपी अब भी फरार हैं। उनकी तलाश की जा रही है।

रायपुर एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने बताया, शनिवार को इस केस की जानकारी जारी की जाएगी। फिलहाल पूछताछ का जा रही है।

ये वारदात सुंदर नगर हुई। जहां सिद्धार्थ नाम के युवा कारोबारी की इंटीरियर प्रोडक्ट्स की दुकान है। देर शाम वो अपने आउटलेट में बैठा था। उसके साथ दुकान का कर्मचारी भी था। तभी अचानक दुकान के बाहर एक SUV आकर रुकी।

गाड़ी से तीन-चार युवक उतरे और दुकान में दाखिल हो गए। बदमाशों ने सिद्धार्थ के साथ बदसलूकी की और पीटते हुए अपने साथ लेकर चले गए। दुकान का कर्मचारी कुछ न कर सका, गाड़ी पूरी रफ्तार में निकल गई। इसके बाद उसने सिद्धार्थ के घरवालों को फोन किया और मामला पुलिस के पास पहुंचा।

इस घटना की जांच डीडी नगर थाने की पुलिस कर रही है। मामले की गंभीरता को देखते हुए क्राइम यूनिट की टीम को भी काम पर लगाया गया।

रायपुर, लाखेनगर, पुरानी बस्ती, टिकरापारा जैसे इलाको में आधी रात नाकेबंदी कर पुलिस आने-जाने वाली गाड़ियों की तलाश करने लगी

 

दुकान के आस-पास कुछ सीसीटीवी फुटेज घंटों तक चेक करने के बाद पुलिस को कुछ संदिग्धों की जानकारी मिली है। कारोबारी के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

 

भाजपा नेताओं का जमावड़ा

कारोबारी सिद्धार्थ के राजनीतिक दलों के लोगों से भी संबंध रहे हैं। अपहरण की खबर इलाके में जंगल की आग की तरह फैली। पार्षद मृत्युंजय दुबे, डीडी नगर मंडल स्तर के भाजपा कार्यकर्ता दुकान के बाहर जमा हो गए। देर रात पार्षद ज्ञानेश शर्मा भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस अफसरों से नेताओं ने बात की। तो अधिकारी जल्द बदमाशों का पता लगाने का दावा करते रहे।

 

पैसों का बताया जा रहा विवाद

अब तक की जांच में रुपए के लेन-देन में गड़बड़ी की बातें भी सामने आई है। कारोबारी का किसके साथ उठना-बैठना था। उसके दोस्तों पुराने विवाद सभी के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। माना जा रहा है कि उसके ही किसी करीबी ने रुपए की वसूली के विवाद में दुकान से ही उसे उठवा लिया होगा। आज इस मामले में पुलिस खुलासे कर सकती है।