देश -विदेश व्यापार स्लाइडर

Stock Market : बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट के आसार, कौन-से फैक्‍टर डालेंगे निवेशकों के सेंटिमेंट पर असर?

नई दिल्‍ली. भारतीय शेयर बाजार (Stock Market) आज शुक्रवार को लगातार तीसरे सत्र में गिरावट की ओर बढ़ता दिख रहा है. ग्‍लोबल मार्केट के कमजोर संकेतों से आज निवेशकों का सेंटिमेंट और कमजोर होगा जिससे मुनाफावसूली बढ़ सकती है.

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 400 अंकों से ज्‍यादा गिरकर 59,934 पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 120 अंक लुढ़ककर 17,877 पर पहुंच गया था. एक्‍सपर्ट का अनुमान है कि आज के कारोबार में भी निवेशकों पर दबाव रहेगा और वे बिकवाली पर उतर सकते हैं. यह लगातार तीसरा होगा जबकि बाजार में गिरावट आएगी. पिछले दो सत्र में सेंसेक्‍स करीब 634 अंक टूट चुका है.

अमेरिकी बाजार धराशायी
अमेरिका में महंगाई और बेरोजगारी के बाद बांड यील्‍ड बढ़ने और फेड रिजर्व की ओर से ब्‍याज दरों में बड़ी बढ़ोतरी का संकेत दिए जाने के बाद निवेशकों का रुख काफी निराशाजनक हो गया है और उन्‍होंने पिछले सत्र में जमकर बिकवाली की. इससे अमेरिका के प्रमुख शेयर बाजार Dow Jones पर 0.56% की गिरावट आई, जबकि S&P 500 1.13% के नुकसान पर बंद हुआ और Nasdaq भी 1.43% टूट गया.

अमेरिका की तर्ज पर यूरोप के भी ज्‍यादातर शेयर बाजारों में पिछले सत्र के दौरान गिरावट दिखी है. यूरोप के प्रमुख शेयर बाजारों में शामिल जर्मनी का स्‍टॉक एक्‍सचेंज पिछले कारोबारी सत्र में 0.55 फीसदी के नुकसान पर बंद हुआ, जबकि फ्रांस का शेयर बाजार 1.04 फीसदी टूट गया. हालांकि, लंदन स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर इस दौरान 0.07 फीसदी की मामूली तेजी दिखी.

एशियाई बाजारों में भी गिरावट
एशिया के ज्‍यादातर शेयर बाजार नुकसान पर कारोबार कर रहे हैं. सिंगापुर स्‍टॉक एक्‍सचेंज आज सुबह 0.59 फीसदी की गिरावट पर कारोबार कर रहा, जबकि जापान का निक्‍केई 1.20 फीसदी गिरावट पर है. ताइवान का शेयर बाजार 0.76 फीसदी के नुकसान पर दिख रहा तो दक्षिण कोरिया के कॉस्‍पी पर 0.63 फीसदी की गिरावट है. चीन का शंघाई शेयर बाजार आज फ्लैट कारोबार कर रहा है.

आज इन शेयरों पर रहेगी नजर
एक्‍सपर्ट का कहना है कि आज के कारोबार में कुछ ऐसे शेयर हैं, जिनके दमदार प्रदर्शन करने की पूरी उम्‍मीद है. इन शेयरों को हाई परसेंटेज डिलीवरी स्‍टॉक कहते हैं, जिनमें Whirlpool, Hindustan Unilever, Godrej Consumer Products, Power Grid Corporation और HDFC जैसी कंपनियों के शेयर शामिल हैं.