छत्तीसगढ़ सियासत स्लाइडर

विश्व आदिवासी दिवस पर प्रदेश अध्यक्ष बदलने से कांग्रेस के निशाने पर भाजपा

रायपुर। विश्व आदिवासी दिवस पर भाजपा ने आदिवासी प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय को बदल दिया है। इससे कांग्रेस को निशाना साधने का मौका मिल गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम सहित अन्य कांग्रेस नेताओं ने चुन-चुन कर भाजपा पर निशाना साधा है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस के दिन विष्णुदेव साय को हटाना भाजपा की आदिवासी विरोधी सोच है। चेहरा बदलने से हालात नहीं बदलने वाला है। भाजपा पर जनता को भरोसा नहीं रहा। मरकाम ने कहा कि इसके पहले एक और आदिवासी नेता विक्रम उसेंडी को भी बिना कार्यकाल पूरा किए पद से हटा दिया गया था।

भाजपा को आदिवासियों के नेतृत्व पर भरोसा क्यों नहीं है? 15 साल तक राज्य में जब भाजपा सत्ता में थी, तब भी आदिवासियों की शैक्षणिक, आर्थिक, सामाजिक उन्न्ति में बाधा उत्पन्न् की जाती थी। विपक्ष में आने के बाद भी उनके स्वभाव में कोई परिवर्तन नहीं आया। नंदकुमार साय के समय से अन्याय का जो दौर चला था, वह विष्णुदेव तक पहुंच गया है।

कांग्रेस के आरोपों का पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने आदिवासियों को हमेशा वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया। भाजपा ने राष्ट्रपति पद पर एक आदिवासी महिला को बिठाया, जो आदिवासी स्वाभिमान की प्रतीक बन गई हैं। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता केदार कश्यप ने कहा कि मोहन मरकाम जाति के आधार पर निराधार बातें कर रहे हैं।