देश -विदेश सियासत स्लाइडर

सत्ता परिवर्तन के कयासों के बीच बिहार में आज बैठकों का दौर, नीतीश कुमार लेंगे बड़ा फैसला

पटना. बिहार की राजनीति के लिए मंगलवार का दिन काफी अहम साबित हो सकता है. दरअसल सूबे में जारी सियासी हलचल के बीच एक साथ कई दलों ने अपने विधायकों की बैठक आज बुलाई है, ऐसे में सभी की निगाहें इन बैठकों पर जा टिकी है. मंगलवार को सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड के अलावा एनडीए में उसकी सहयोगी जीतन राम मांझी की पार्टी हम के अलावा महागठबंधन के सबसे बड़े दल राजद ने अपने विधायकों की बैठक बुलाई है. इन तीनों दलों के विधायक दल की बैठक में क्या कुछ होता है, इसको लेकर अभी से ही कयासों का दौर शुरू हो गया है.

ऐसी खबरें निकल कर सामने आ रही हैं कि प्रदेश की सियासत में कुछ बड़ा फेरबदल होने वाला है, हालांकि इसको लेकर जेडीयू और बीजेपी दोनों की तरफ से सधे हुए जवाब दिए जा रहे हैं तो वहीं महागठबंधन के नेताओं का दावा है कि सरकार पूरी तरह से बदलने वाली है. मंगलवार को नीतीश कुमार अपनी पार्टी के सभी विधायकों और सासंदों के साथ बैठक करेंगे. हालांकि इस बैठक को लेकर कहा जा रहा है कि इसमें आरसीपी सिंह के पार्टी से जाने के बाद की स्थितियों पर विचार होगा लेकिन सूत्र यह भी बता रहे हैं कि नीतीश कुमार एनडीए गठबंधन में रहने अथवा नहीं रहने का भी फैसला ले सकते हैं.

दूसरी तरफ तेजस्वी यादव की अगुवाई वाली राजद ने भी अपने विधायकों की बैठक बुलाई है. दिन के 11 बजे से राबड़ी आवास में होने वाली इस बैठक पर भी सभी की निगाहें हैं क्योंकि ताजा घटनाक्रम में ऐसा दावा लगातार किया जा रहा है कि बिहार में सत्ता का परिवर्तन होगा और तेजस्वी यादव फिर से बिहार की सत्ता में वापसी कर सकते हैं. बिहार की ही एक अन्य पार्टी जीतन राम मांझी की हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने भी अपने विधायकों की बैठक बुलाई है. मांझी ने इसके लिए अपना दिल्ली का दौरा भी छोटा कर दिया है. ऐसे में इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि बिहार की राजनीति में कुछ बड़ा होने वाला है.

इससे पहले सोमवार को बिहार में कांग्रेस ने अपने विधायकों की बैठक की है. जेडीयू की बात करें तो नीतीश कुमार अपने विधायकों और सांसदों से अलग-अलग बैठक करेंगे. दिन के 11 बजे पटना के सीएम हाउस में बैठक होने वाली है जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार पहले अपनी पार्टी के 16 सांसदों के साथ बैठक करेंगे इसके बाद विधायकों पर भी वर्तमान राजनीतिक हालात पर चर्चा करेंगे साथ ही उनका मंतव्य भी जानेंगे.

सोमवार की शाम कांग्रेस के विधायक दल की बैठक में बिहार में कांग्रेस ने नया दांव चल दिया. पार्टी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खुले रूप से बिना शर्त समर्थन देने की घोषणा कर दी है. जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) और बीजेपी के बीच रहे उठापटक और सरकार को लेकर चल रहे रस्साकस्सी को लेकर कांग्रेस ने यह निर्णय लिया. कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा के आवास पर हुई थी. इस बैठक में बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा सहित तमाम विधायक शामिल रहे थे.