क्राइम देश -विदेश वायरल

नहाते हुए महिला की तस्वीर बीजेपी नेता ने व्हाट्सएप ग्रुप में की शेयर, गिरी गाज

गुजरात में सूरत की चौर्यासी तहसील पंचायत प्रमुख आस्तिक पटेल को एक महिला की अश्लील फोटो सोशल मीडिया में पोस्ट करने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है. पिछले 10-12 वर्षों से भाजपा के साथ जुड़े रहे आस्तिक पटेल को पार्टी ने प्राथमिक सदस्यता भी रद्द कर दी है.

आस्तिक पटेल ने दो दिन पहले तहसील क्षेत्र के सरपंचों के व्हाट्सएप ग्रुप में शादीशुदा महिला के साथ बातचीत करने का स्क्रीनशॉट शेयर किया था. साथ ही नहाते हुए महिला की अश्लील तस्वीर भी शेयर की थी. भाजपा नेता की इस हरकत से व्हाट्सएप ग्रुप में मौजूद सभी सदस्यों को शर्मिंदगी महसूस हुई थी.

ऐसे में सूरत जिला भाजपा अध्यक्ष संदीप देसाई ने सख्त एक्शन लेते हुए आस्तिक पटेल को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता एवं चौर्यासी तहसील पंचायत के प्रमुख पद से निलंबित कर दिया. संदीप देसाई ने बताया कि एक जिम्मेदार नेता होने के नाते आस्तिक पटेल ने बहुत ही गलत कृत्य किया, जिसके चलते यह कार्रवाई की गई. इससे पहले बारडोली कस्बे के भाजपा पार्षद दक्षेश सेठ और तहसील भाजपा प्रमुख हितेंद्र सिंह वांसिया ने भी सोशल मीडिया में अश्लील फोटो पोस्ट किए थे. तब उनके खिलाफ भी भाजपा ने कार्रवाई की थी.

बता दें कि स्थानीय निकाय चुनाव में चौर्यासी तहसील पंचायत में भाजपा ने 16 में से 12 सीटें जीती थी, जबकि कांग्रेस को 4 सीटें मिली थी. भाजपा ने आस्तिक पटेल को चौर्यासी तहसील पंचायत का प्रमुख बनाया था. अश्लील फोटो वायरल करने के आरोप में भाजपा ने अब उनके खिलाफ एक्शन लिया.