छत्तीसगढ़ स्लाइडर

जनता की नाराजगी से घबराकर मुख्यमंत्री ने शुरू किया विधानसभाओं का दौरा : बृजमोहन…

रायपुर : भाजपा विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पूरे प्रदेश में सरकार के खिलाफ व्यापक नाराजगी व जनता में आक्रोश को देखकर मुख्यमंत्री घबराकर, परेशान होकर, डरकर अब प्रदेश के दौरे पर निकले हैं।

लेकिन अब बहुत देर हो चुकी है, पानी सिर से ऊपर हो गया है, मुख्यमंत्री के दौरे का अब कोई लाभ होने वाला नहीं है। प्रदेश की जनता इस क्रूर सरकार को हर हाल में 2023 में उखाड़ फेंकेगी।

बृजमोहन अग्रवाल बुधवार को पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को लग चुका है कि पूरे प्रदेश की जनता सरकार से नाराज है, आक्रोशित है, प्रदेश में कहीं भी विकास के काम नहीं हो रहे हैं, सड़कों के गड्ढे तक नहीं भरे जा रहे हैं।

प्रदेश में लूट मची है। भ्रष्टाचार में पूरी सरकार डूबी हुई है। प्रदेश में कानून की स्थिति बद से बदतर है। प्रदेश का हर तबका किसान, नौजवान, मितानिन, अतिथि शिक्षक, संविदा विद्युत कर्मचारी परेशान हैं। उनके आंदोलनों से धरना स्थल आये दिन भरा रहता है।

विधायक अग्रवाल ने कहा कि जनता अब प्रधानमंत्री आवास को खत्म करके, उनके सिर से छत छीनने वालों को, महिलाओं को मिलने वाली पीएम मोदी की मुफ्त गैस सिलेंडर की सुविधा छीनने वालों को, प्रधानमंत्री की घर-घर नल जल योजना को लागू नहीं करने वाली सरकार को और निराश्रित महिला, परित्यक्ता, बुजुर्गों को डेढ़ हजार रुपए का वादा करके नहीं देने वाली क्रूर सरकार को अब बर्दाश्त नहीं करेगी। जनता इस सरकार को 2023 के चुनाव में उखाड़ फेंकने का मन बना चुकी है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में रेत, शराब,जमीन, जंगल माफियाओं की सरकार है। प्रदेश में सरकार की धमक ही खत्म हो गई है। प्रदेश में ब्यूरोक्रेसी हावी हो गई है। प्रदेश में असंतोष फैल गया है इसलिए मुख्यमंत्री घबराकर प्रदेश के दौरे पर निकले हैं।