टेक्नोलॉजी देश -विदेश यूथ स्लाइडर

IT JOB ALERT! इन दो कंपनियों में नौकरियों की भरमार… 90,000 से अधिक फ्रेशर्स की करने जा रहे नियुक्ति…

नई दिल्ली: देश की शीर्ष दो आईटी कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इंफोसिस ने नौकरी छोड़ने वालों से परेशान है।

दोनों ही कंपनियां को उच्च स्तर पर नौकरी छोड़ने की दर का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में दोनों ही कंपनियां चालू वित्त वर्ष में बड़े पैमाने पर लोगों की नियुक्ति करने जा रही हैं।

मालूम हो कि मार्च 2022 की तिमाही में इंफोसिस की नौकरी छोड़ने की दर पिछली तिमाही के 25.5 प्रतिशत से बढ़कर 27.7% हो गई। हालांकि, इंफोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी नीलांजन रॉय ने कहा कि तिमाही के लिए एट्रिशन प्रतिशत और पूर्ण हेडकाउंट दोनों में लगभग 5% कम हो गया है।

इसी तरह की टिप्पणियों को दोहराते हुए, दूसरे आईटी सबसे बड़े इंफोसिस प्रबंधन ने भी कहा कि पिछली तिमाही में नौकरी छोड़ने की दर कम थी।

टीसीएस एवं इन्फोसिस में नौकरियों की भरमार

देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टीसीएस चालू वित्त वर्ष में 40 हजार स्नातकों यानी फ्रेशर्स की नियुक्तियां करने की लक्ष्य रखा है।

पिछले साल भी टीसीएस ने करीब इतनी भर्तियों की लक्ष्य रखा था लेकिन कंपनी ने इसके मुकाबले एक लाख नई भर्तियां की।

विशेषज्ञों का कहना है कि टीसीएस चालू वित्त वर्ष में भी तय लक्ष्य से अधिक भर्तियां कर सकती है। टीसीएस ने 31 मार्च को खत्म तिमाही में 35 हजार से अधिक नियुक्तियां की जो अब तक किसी भी तिमाही का उच्चतम स्तर है।

इन्फोसिस इस साल 50 हजार फ्रेशर्स की नियुक्तियां करने का लक्ष्य रखा

देश में आईटी क्षेत्र की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी इन्फोसिस इस साल 50 हजार फ्रेशर्स की नियुक्तियां करने का लक्ष्य रखा है।

हालांकि, कंपनी इससे अधिक भी नियुक्तियां कर सकती है। पिछले साल इन्फोसिस ने 85 हजार नई नियुक्तियां की जो लक्ष्य से करीब दोगुना अधिक है।

इन्फोसिस में नौकरी छोड़कर जाने की दर भी अधिक है जिससे उसे अधिक भर्तियां करनी पड़ रही हैं। ऐसे में फ्रेशर्स के लिए वहां अधिक मौके हैं।

TCS और Infosys ने क्रमशः 100,000 और 85,000 फ्रेशर्स को काम पर रखा

आईटी दिग्गजों द्वारा फ्रेशर्स को काम पर रखने के मामले में, कंपनियों (इंफोसिस और टीसीएस) ने वित्त वर्ष 2011 में कुल 61,000 कैंपस हायर किए। FY22 में, TCS और Infosys ने क्रमशः 100,000 और 85,000 फ्रेशर्स को काम पर रखा। वित्त वर्ष 2023 में, इंफोसिस ने 50,000 से अधिक फ्रेशर्स को नियुक्त करने की योजना बनाई है।

इस महीने की शुरुआत में, कंपनी के परिणाम की घोषणा करते हुए, इंफोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी, नीलांजन रॉय ने कहा, ‘पिछले वर्ष, हमने पूरे भारत और वैश्विक स्तर पर 85,000 नए लोगों को काम पर रखा है।

हम कम से कम 50,000 (इस साल) से ऊपर की नियुक्ति करने की योजना बना रहे हैं और देखेंगे कि यह कैसे चलता है लेकिन यह सिर्फ शुरुआती आंकड़े हैं।