छत्तीसगढ़ सियासत स्लाइडर

कवर्धा मामले में विरोध पर बोले CM… साम्प्रदायिकता और धर्मांतरण के अलावा भाजपा के पास कोई दूसरा मुद्दा नहीं… निकाय चुनाव जीतने का दावा…

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को जगदलपुर प्रवास पर रहे। कवर्धा मामले पर भाजपा द्वारा CM हाउस घेराव और धरने पर बैठे रहने पर भूपेश बघेल ने कहा कि, उन्हें धरने पर बैठे रहने दें। हमने तो कहा था यदि उनके पास कोई तथ्य है तो दे दें। उन्होंने कोई तथ्य दिया नहीं। छत्तीसगढ़ में किसान, आदिवासी, महिलाएं और युवा भाजपा के साथ नहीं हैं। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार ने जो योजनाएं बनाई है उसका लाभ यहां के लोगों को मिल रहा है।

सीएम ने कहा स्वच्छता पर राष्ट्रपति द्वारा तीसरी बार छत्तीसगढ़ को प्रथम पुरस्कार दिया गया है। भाजपा के पास कुछ नहीं है। इनके पास कोई काम नहीं रह गया है। भाजपा को केवल दो ही काम आते हैं, पहला साम्प्रदायिकता और दूसरा धर्मांतरण। ये दो ही मुद्दे इनके पास हैं। एक जगह छोटी सी घटना हुई और उसमें कड़ी से कड़ी कार्रवाई की गई है। किसी को छोड़ा नहीं गया है। लेकिन इस मामले को भाजपा जबरन जिंदा रखना चाहती है।

नगरीय निकाय की है पूरी तैयारी- CM
बुधवार को नगरीय निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि पिछले इलेक्शन में भी हमने 10 नगर निगम में जीत दर्ज की थी। अभी होने वाले चुनाव में भी हम निश्चित ही जीतेंगे। चुनाव को लेकर हमारी पूरी तैयारी है।

किसानों के धरने को बताया जायज
बस्तर के नारायणपुर में किसान धान का समर्थन मूल्य 3200 रुपए करने की मांग कर रहे हैं। अपनी मांगों को लेकर वे धरने पर बैठे हुए हैं। रविवार को किसानों ने ओरछा – नारायणपुर मुख्य मार्ग पर चक्का जाम भी किया था। इस मामले पर CM ने कहा कि, समर्थन मूल्य बढ़ाने की मांग बिल्कुल करना चाहिए। समर्थन मूल्य भारत सरकार घोषित करती है। वो मांग कर रहे हैं हमें कोई तकलीफ नहीं है। हमारे पास किसानों का आवेदन आएगा, हम भारत सरकार को भेज देंगे।