क्राइम छत्तीसगढ़ स्लाइडर

छत्तीसगढ़: मिलावटी शराब बेचने का कारोबार… उड़नदस्ता टीम ने की छापेमार कार्रवाई…

सरगुजा: पिछले कुछ दिनों से सरगुज़ा संभाग मुख्यालय अम्बिकापुर मिलावटी शराब बेचने के मामले में नंबर वन बनता जा रहा है। और ये बात किसी से छिपी नहीं है, इस संबंध में शराब प्रेमी भी कई बार विरोध जता चुके हैं। लेकिन पर्याप्त सबूत नहीं होने की वजह से मिलावटी शराब बेचने का कारोबार फलता-फूलता रहा। हालांकि देर आए दुरुस्त आए की तर्ज पर अब मिलावटी शराब बनाने का खेल पकड़ा गया।

दरअसल, आज आबकारी विभाग की बिलासपुर उड़नदस्ता टीम ने अम्बिकापुर शहर के गंगापुर शराब दुकान में छापामार की कार्रवाई कर मिलावटी शराब को पकड़ा है। उड़नदस्ता टीम की इस कार्रवाई से अगल-बगल के जिलों के शराब दुकानों में भी हड़कंप मचा हुआ है। बता दें कि जांच टीम को गंगापुर शासकीय शराब दुकान से शराब की बॉटल खोलने व सील करने की मशीन, खाली बोतलें, ढक्कन व कलर समेत अन्य सामान पाए गए हैं। जो संदेह के दायरे में हैं। और इससे स्पष्ट है कि मिलावटी शराब बेची जा रही है।

गौरतलब है कि अम्बिकापुर में मिलावटी शराब बेचने का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी गांधीनगर थाना क्षेत्र में स्थित किराए के मकान में रहकर शराब दुकान का सेल्समैन द्वारा शराब में मिलावट का काम किया जा रहा था। पुलिस ने उक्त मामले में कार्रवाई भी की थी। लेकिन कुछ दिनों तक मामला शांत रहने के बाद शराब में मिलावट का खेल फिर से शुरू हो गया है।

कुछ शराब प्रेमियों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि अम्बिकापुर के गंगापुर में स्थित शासकीय शराब दुकान से खरीदा हुआ शराब पीने के बाद भी, शराब पीने जैसा नहीं लगता हैं। जिससे शराब में मिलावट होने की पूर्ण आशंका है।

बहरहाल, शिकायत मिलने पर जांच के लिए अम्बिकापुर पहुंचे बिलासपुर उड़नदस्ता के उपायुक्त जीके भगत ने बताया कि कुछ मिलावटी शराब भी बरामद किए गए हैं। उच्च न्यायालय में प्रकरण दाखिल किया जाएगा।