खेलकूद स्लाइडर

IND vs NZ T20 World Cup: जसप्रीत बुमराह ने न्‍यूजीलैंड से हार के बाद दिया बड़ा बयान, कहा- 6 महीने से घर से दूर हैं…

नई दिल्ली. टी20 विश्व कप में टीम इंडिया को लगातार दूसरी हार झेलनी पड़ी. पहले पाकिस्तान और रविवार को न्यूजीलैंड ने भारत (IND vs NZ T20 World Cup 2021) को शिकस्त दी. इस हार के बाद टीम इंडिया के लिए सेमीफाइनल में पहुंचने की राह बेहद मुश्किल हो गई है. इस मैच में टीम इंडिया के खिलाड़ी थके हुए नजर आ रहे थे. मैच के बाद जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुछ ऐसी ही बातें कहीं. उन्होंने कहा कि कई बार आपको ब्रेक (Bio Bubble Fatigue) की जरूरत होती है. फिलहाल, शरीर थक गया है और अब आराम की जरूरत है.

बुमराह ने जो बात उठाई है, उसमें दम भी नजर आ रहा है. क्योंकि टीम इंडिया जनवरी से ही लगातार क्रिकेट खेल रही है. टी20 विश्व कप की टीम में शामिल लगभग सभी खिलाड़ी आईपीएल के दूसरे हाफ (IPL 2021 2nd Phase) में खेलकर सीधे टूर्नामेंट में उतरे हैं. ऐसे में टीम के खराब प्रदर्शन के लिए कहीं ना कहीं थकान और जरूरत से ज्यादा क्रिकेट भी एक वजह हो सकती है.

बायो-बबल में खिलाड़ी मानसिक रूप से थक जाता है: बुमराह
भारतीय पेसर बुमराह ने आगे कहा कि कई बार आप अपने परिवार की कमी महसूस करते हैं. हम लगातार 6 महीने से क्रिकेट खेल रहे हैं और घर से दूर हैं. तो कहीं ना कहीं, यह बातें आपके दिमाग में रहती हैं. बीसीसीआई ने इस दिशा में हरसंभव कोशिश की. लेकिन जब आप परिवार से अलग बायो-बबल में काफी वक्त बिताते हो तो यह बातें कई बार दिमाग में आ ही जाती हैं. बबल में लगातार बने रहने से मानसिक रूप से भी खिलाड़ी थक जाता है.

भारतीय टीम 6 महीने से लगातार क्रिकेट खेल रही
पिछले साल ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद से ही टीम इंडिया लगातार क्रिकेट खेल रहे रही है. इस साल जनवरी में ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद 15 दिन के भीतर ही भारत ने इंग्लैंड की मेजबानी की. दोनों देशों के बीच फरवरी-मार्च में टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज खेली गई. इसके फौरन बाद विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह समेत टीम के तमाम बड़े खिलाड़ी आईपीएल का पहला हाफ खेले. हालांकि, मई में कोरोना के मामले सामने आने के बाद लीग को स्थगित कर दिया गया था. उस समय जरूर खिलाड़ियों को महीने भर का ब्रेक मिला था. लेकिन इसके बाद तीन महीने लंबे दौरे के लिए भारतीय टीम इंग्लैंड रवाना हो गई. इसके फौरन बाद आईपीएल का दूसरा हाफ यूएई में शुरू हो गया और फिर टी20 विश्व कप. ऐसे में खिलाड़ियों पर थकान का हावी होना लाजिमी है.

‘थकान को हार का बहाना नहीं बना सकते’
बुमराह ने कहा कि थकान का असर जरूर पड़ता है. लेकिन हम इसे हार का बहाना नहीं बना सकते. हमने कंडीशंस और शेड्यूल के साथ तालमेल बैठाने की कोशिश की. हम जब भी मैदान पर उतरते हैं, तो बाकी बातों के बारे में नहीं सोचते. कई बातों पर आपका बस नहीं होता. जैसे शेड्यूल, कौन सा और कब टूर्नामेंट में खेलना है. यह आपके हाथ में नहीं होता है. एक खिलाड़ी के नाते आप मैदान पर काफी वक्त बिताते हैं. कुछ दिन आपके लिए अच्छे होते हैं और कुछ बुरे. ये सभी चीजें हमेशा एक क्रिकेटर के जीवन का एक हिस्सा होती हैं। इसलिए अपनी गलती का आकलन करते हुए आगे के मुकाबलों में उसमें सुधार करें.