छत्तीसगढ़ यूथ स्लाइडर

श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जागरूकता कार्यक्रम का हुआ आयोजन…

श्री शंकराचार्य महाविद्यालय के महिला प्रकोष्ठ द्वारा अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन किया गया। इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के सामने आने वाली चुनौतियो और उनके अधिकारों के संरक्षण के बारे में जागरूकता पैदा करना था। इस वर्ष की थीम “डिजिटल जनरेशन अवर जनरेशन है।

उक्त दिवस में महाविद्यालय की छात्राओं को इस वर्ष की थीम पर आधारित वीडियो दिखाया गया जिसमें इस दिवस का इतिहास व इस दिवस को मनाने की आवश्यकता को बताया कि इस दिवस को मनाने की प्रेरणा कनाडाई संस्था प्लान इंटरनेशनल के बिकॉज आई एम गर्ल अभियान से मिली। इस अभियान के तहत वैश्विक स्तर पर लड़कियों के पोषण के प्रति जागरूकता फैलाई जाती है।

SSMV

महाविद्यालय की निदेशक एवं प्राचार्या डॉ रक्षा सिंह ने कहा कि हर जगह अपना योगदान देने वाली और चुनौतियों का सामना कर रही लड़कियों के अधिकारों के प्रति जागरूकता लाने और उनके सहयोग के लिए दुनिया को जागरूक करने के लिए इस दिवस का आयोजन किया गया।

महाविद्यालय के अतिरिक्त निदेशक डॉ. जे. दुर्गा प्रसाद राव ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का मकसद है बालिकाओं के मुद्दे पर विचार करके उनकी भलाई की ओर सक्रिय कदम उठाना व शोषण और भेदभाव का शिकार होती लड़कियों की शिक्षा और उनके सपनों को पूरा करना।

महिला प्रकोष्ठ की समन्वयक डॉ अर्चना झा ने कहा कि लड़कियों को शिक्षित करना हमारा दायित्व है शिक्षा से लड़किया केवल शिक्षित होती है बल्कि उनके अंदर आत्मविश्वास पैदा होता है इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राध्यापक गण कर्मचारी गण एवं छात्र छात्राएं उपस्थित