टेक्नोलॉजी ट्रेंडिंग स्लाइडर

एलन मस्‍क की कंपनी पहली बार करा रही आम लोगों को अंतरिक्ष की सैर, रॉकेट से गए 4 लोग

वॉशिंगटन. अंतरिक्ष (Space) की सैर की कल्‍पना अब साकार होती दिख रही है. अभी तक अंतरिक्ष में शोध के लिए वैज्ञानिकों या शोधकर्ताओं को भेजा जाता था, लेकिन अब पहली बार स्‍पेस टूरिज्‍म (Space Tourism) के तौर पर आम लोगों को अंतरिक्ष में भेजा गया है. ऐसा किया है एलन मस्‍क (Elon Musk) की कंपनी स्‍पेस एक्‍स (SpaceX) ने.

स्‍पेस एक्‍स ने अमेरिका के फ्लोरिडा स्थित नासा के केनेडी स्‍पेस सेंटर से चार आम लोगों को अंतरिक्ष में भेजा है. उन्‍हें इंस्‍पीरेशन 4 रॉकेट के जरिये स्‍पेस की सैर पर भेजा गया है. ये सभी लोग अगले 3 दिन अंतरिक्ष की सैर करेंगे और उसके बाद पृथ्‍वी पर लौटेंगे. अपनी तरह के इस पहले अभियान के जरिये अब स्‍पेस टूरिज्‍म की राह भी आसान होती दिख रही है.

अंतरिक्ष में जाने से पहले इंसपिरेशन 4 टीम ने एक ट्वीट में कहा, हैसटेक इंस्पिरेशन 4 और एटदारेट स्पेसएक्स ने हमारी उड़ान तैयारी की समीक्षा पूरी कर ली है और लान्च के लिए ट्रैक तैयार है. इस साल फरवरी में, स्पेस एक्स ने इंस्पिरेशन 4 नामक चैरिटी-संचालित मिशन की घोषणा की थी.

वहीं इससे पहले जुलाई में अंतरिक्ष यात्रा के लिए अपनी कंपनी ‘ब्लू ओरिजिन’ की पहली उड़ान पर तीन लोगों के साथ जेफ बेजोस भी स्‍पेस में गए थे. ‘ब्लू ओरिजिन’ और अमेजन के संस्थापक बेजोस दूसरे अरबपति हैं जो अपने ही रॉकेट से अंतरिक्ष की यात्रा पर गए थे.

बेजोस से नौ दिन पहले ‘वर्जिन गैलेक्टिक’ के रिचर्ड ब्रैनसन अंतरिक्ष में गए थे. रिचर्ड ब्रैनसन 11 जुलाई को अंतरिक्ष में जितनी ऊंचाई पर पहुंचे थे, उससे 10 मील (16 किलोमीटर) अधिक ऊंचाई 66 मील (106 किलोमीटर) पर ब्लू ओरिजिन का यान पहुंचा था.