देश -विदेश स्लाइडर

रहस्यमयी: एक ऐसा विचित्र मंदिर… जहां रात को रुकने वाले श्रद्धालु बन जाते हैं पत्थर!…

यह रहस्यमयी मंदिर राजस्थान के बाड़मेर जिले में है. इस मंदिर को ‘किराडू मंदिर’ के रूप में भी जाना जाता है. कहा जाता है कि 1161 ईसा पूर्व में इस जगह का नाम ‘किराट कूप’ था. राजस्थान में होने के बावजूद इस मंदिर का निर्माण दक्षिण भारतीय शैली में करवाया गया. इस मंदिर को लोग राजस्थान का खजुराहो भी कहते हैं.

यह पांच मंदिरों की एक श्रृंखला है. इस श्रृंखला के ज्यादातर मंदिर अब खंडहर में तब्दील हो चुके हैं. जबकि शिव मंदिर और विष्णु मंदिर की हालत ठीक है. इस मंदिर का निर्माण किसने कराया. इसके बारे में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है. हालांकि मंदिर निर्माण को लेकर लोगों की अपनी-अपनी मान्यताएं जरूर हैं.

कहा जाता है कि इस मंदिर में एक समय ऐसी घटना घटी, जिसका खौफ आज भी लोगों में बना हुआ है. कहा जाता है कि कई साल पहले एक साधु अपने शिष्यों के साथ इस मंदिर में पहुंचे थे. एक दिन उन्होंने शिष्यों को मंदिर पर छोड़ दिया और खुद कहीं घूमने चले गए.

SSMV

इस दौरान एक शिष्य की तबीयत अचानक बिगड़ गई. साधु के अन्य शिष्यों ने गांव वालों से मदद मांगी, लेकिन किसी ने उनकी मदद नहीं की. साधु को जब इसके बारे में जानकारी मिली तो वह भड़क गए और ग्रामीणों को श्राप दिया कि शाम होने के बाद सभी लोग पत्थर बन जाएं.

लोक कथाओं के मुताबिक एक महिला ने साधु के शिष्यों की मदद की थी. इस बात से साधु प्रसन्न हुए और उस महिला से कहा था कि शाम होने से पहले वह गांव छोड़कर चली जाए और पीछे मुड़कर ना देखें. महिला जब जा रही थी तो कौतुहलवश पीछे मुड़कर देख लिया. जिसकी वजह से वह भी पत्थर की बन गई.

मंदिर के पास ही उस महिला की मूर्ति आज भी स्थापित है. साधु इस शाप के कारण ही आस-पास के गांव के लोगों में दहशत फैल गई. जिसके चलते आज भी लोगों में यह मान्यता है कि जो भी इस मंदिर में शाम को कदम रखेगा या रुकेगा, वह भी पत्थर का बन जाएगा. यही कारण है कि कोई भी शाम होने के बाद इस मंदिर में ठहरने की हिम्मत नहीं करता.