छत्तीसगढ़ ट्रेंडिंग वायरल

इंडियन आइडल के मंच पर दिखेगा सहदेव… फोन पर क्रिएटिव टीम ने की बात, सुनाया सॉन्ग बचपन का प्यार… जल्द होंगे मुंबई रवाना…

सुकमा का रहने वाला सहदेव अब इंडियन आइडल में नजर आएगा। मुंबई से शो की क्रिएटिव टीम ने सहदेव से बात की है। जल्द ही उन्हें मुंबई बुलाया जा सकता है। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले का 12 साल का सहदेव जो देश भर में सुर्खियां बटोर रहा है। 2 दिन पहले मशहूर रैप सिंगर बादशाह से मिलकर सहदेव घर लौटा ही था कि अब इंडियन आइडल के मंच से बुलावा आया है। शो की टीम ने लगभग 15 मिनट तक सहदेव से बात की।

दोपहर 12 बजे आया पहला कॉल, दूसरे का कर रहे इंतजार
जानकारी के मुताबिक, इंडियन आइडल प्रोडक्शन हाउस ने गुरुवार की दोपहर लगभग 12 बजे सहदेव से संपर्क किया। पहले कॉल में लगभग 15 मिनट सहदेव से तो वहीं 6 मिनट स्थानीय युवक पिंटू मानिकपुरी से बात की गई। सहदेव से उसके पारिवारिक बैकग्राउंड के बारे में जानकारी ली व मुंबई आने के लिए पूछा। सहदेव ने कहा कि मैं मुंबई आना चाहता हूं। वहीं प्रोडक्शन हाउस ने कहा कि गुरुवार की रात तक दूसरा कॉल आएगा, फिर उसके बाद ही कंफर्म होगा कि कब और किस दिन आना है। फिलहाल अब तक दूसरी बार कोई कॉल नहीं आया है।

पिता ने कहा- यदि मैं गया तो खेती में ध्यान कौन देगा
सहदेव के परिवार की आर्थिक स्थित बिल्कुल भी ठीक नहीं है। पिता किसान हैं, 2 वक्त की रोजी-रोटी का बंदोबस्त कर पाना मुश्किल हो जाता है। इधर बादशाह से मिलकर आने के बाद जब पिता को पता चला कि अब इंडियन आइडल से फोन आया है और मुंबई जाना है, तो वे थोड़ा हिचकिचाए। उन्होंने कहा कि खेती-किसानी का समय चल रहा है। यदि चले गए तो अनाज कैसे उगाएंगे। अनाज नहीं होगा तो भूखे मर जाएंगे। इधर स्थानीय युवक पिंटू मानिकपुरी ने उन्हें समझाया कि बच्चे का भविष्य का भी सवाल है। इसके बाद पिता राजी हो गए हैं। पिंटू ने आर्थिक मदद के लिए लोगों से अपील भी की है।

पढ़ाई का खर्च उठाएंगे बादशाह
हाल ही में सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुए बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे गाना पर बादशाह ने भी वीडियो बनाई थी। फिर किसी तरह से बादशाह ने सहदेव से संपर्क किया था। वीडियो कॉलिंग में बात करने के बाद सहदेव को चंडीगढ़ बुलाया गया था। बादशाह ने सहदेव के साथ लगभग 6 घंटे तक समय बिताया व एक शार्ट वीडियो एलबम भी बनाया है। वहीं उन्होंने सहदेव से कहा कि यदि सिंगिंग में कैरियर बनाना चाहते हो तो पढ़ाई का सारा खर्च मैं उठाऊंगा। जिसपर सहदेव ने हामी भी भरी है। अब देखना यह होगा कि कब तक बादशाह सहदेव को वापस बुलाते हैं।