Breaking News देश -विदेश वायरल स्लाइडर

UP पंचायत चुनाव हिंसा : ‘सर, BJP वालों ने मुझे थप्पड़ मारा’… इटावा के SP का वीडियो हुआ वायरल…

लखनऊ: यूपी के पंचायत चुनाव में आज तमाम जिलों से हिंसा, पथराव, गोलीबारी और बीडीसी सदस्यों की धर-पकड़ की खबरें आई हैं. इटावा के एसपी सिटी का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो मोबाइल पर अपने सीनियर को बताते नजर आ रहे हैं कि उन्हें भाजपा के लोगों ने थप्पड़ मारा. इसी तरह प्रयागराज, हमीरपुर, अलीगढ़, हाथरस, प्रतापगढ़, सोनभद्र समेद तमाम जिलों में हिंसा हुई. पुलिस के मुताबिक कुल 17 जिलों में गड़बड़ हुई है.

इस वायरल वीडियो में इटावा में मतदान केंद्र के पास हुई हिंसा के बाद एसपी सिटी प्रशांत कुमार अपने सीनियर को बता रहे हैं कि ‘ये तो पूरा पत्थर, ईंट लेकर आए हैं. सर इन्होंने मुझे भी थप्पड़ मारा है. ये लोग बम भी लेकर आए थे. भाजपा वाले, विधायक और जिलाध्यक्ष.’

इसी बीच एसपी सिटी और भाजपा जिलाध्यक्ष अजय धाकरे के बीच बहस भी दिखती है. जिलाध्यक्ष एसपी से कहते हैं, ‘करा तो आप ही रहे हैं सब’. इस पर एसपी सिटी ने कहा कि ‘सर मुझे थप्पड़ मार रहे हैं सब’ तो भाजपा जिलाध्यक्ष कहते हैं कि ‘कोई थप्पड़ नहीं मारा रहा.’

वहीं, भाजपा विधायक सरिता भदौरिया कहती हैं कि हमारा प्रत्याक्षी सीधा है, वहां बैठा है. जब हमने बात करने का प्रयास किया तो पुलिस ने हमारे साथ जबरदस्ती की. जब उनसे पूछा गया कि जब एसपी सिटी को थप्पड़ मारा गया तो आप वहां मौके पर थीं. तो उन्होंने कहा, ‘हम तो इधर साइड में खड़े थे. अध्यक्ष जी गिर पड़े थे सड़क पर.’

इटावा के एसएसपी ने भी माना कि वहां भीड़ ने पत्थरबाजी की और गोलियां चलाई. इटावा के एसएसपी बृजेश कुमार ने कहा, ‘जो भीड़ थी उनके द्वारा फायरिंग भी की गई. पत्थरबाजी भी की गई है. इसमें सारे पुलिसकर्मी अपना जितना भी कार्रवाई कर सकते थे कर के भीड़ को हटाया.’

हमीरपुर के सुमेरपुर की सड़कों पर खुलेआम गुंडागर्दी होती रही. समाजवादी पार्टी के लोगों ने आरोप लगाया कि भाजपा के लोगों ने उनके बीडीसी मेंबर पर हमला किया. जिन गाड़ियों से बीडीसी मेंबर वोट डालने आए, उनको तोड़ डाला. यह हिंसा काफी देर चली. हमीरपुर के एसपी नरेंद्र कुमार सिंह ने बताया, ‘यहां चुनाव हो रहा था. सदस्य लोग वोट करने आए थे, उस में एक पक्ष के द्वारा दूसरे पक्ष पर हमला किया गया. पुलिस मौजूद थी. तत्काल पुलिस ने आवश्यक बल प्रयोग कर के स्थिति को संभाल लिया.’

हाथरस के सिकंदराराउ में जमकर हिंसा हुई. हिंसा में समाजवादी पार्टी के नेता को गोली मारी गई. उन्हें अस्पताल ले जाया गया. सोनभद्र के नागावां ब्लॉक में हिंसा हुई. सपा समर्धकों ने धांधली का इल्जाम लगा के प्रदर्शन किया. खूब पत्थरबाजी हुई. पुलिस ने लाठीचार्ज किया. अलीगढ़ में तो भाजपा जिलाध्यक्ष मजिस्ट्रेट पर ही चढ़ बैठे. उन्होंने कहा, ‘पहली बार मजिस्ट्रेट बने हो.’

यूपी के पंचायत चुनाव में पहले दिन से हिंसा हो रही है. पुलिस उसे रोकने में नाकाम रही. सिर्फ ब्लॉग प्रमुख चुनाव नामांकन में 22 जिलों में हिंसा हुई. 115 नामजद, 1730 अज्ञात एफआईआर दर्ज हुई. आज अमेठी, बलिया, सिद्धार्थनगर, कानपुर, मऊ, हमीरपुर, अमरोहा, लखनऊ, सुल्तानपुर, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़, फिरोजाबाद, उन्नाव, प्रतापगढ़, इटावा, कानपुर देहात और चंदौली समेत 17 जिलों में हिंसा देखने को मिली.