देश -विदेश

लद्दाख ने अपनी 100 फीसदी आबादी को लगाई वैक्सीन… ऐसा करने वाला पहला केंद्र शासित प्रदेश…

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख देश में 100 फीसदी लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने वाला पहला राज्य बन गया है. बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में सभी निवासियों और अतिथि आबादी को कोरोना की पहली डोज लगा दी गई है. इसमें प्रवासी मजदूर, होटल कर्मचारी और नेपाली नागरिक शामिल हैं, जो यहां अपनी आजीविका कमा रहे हैं. अधिकारियों ने इस बात की पुष्टी की है.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 18-44 वर्ष सहित सभी 89,404 योग्य लोगों को कोविड वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है. दूसरी खुराक 60,936 लोगों को दी गई है. यह टीकाकरण के तीसरे चरण को शुरू करने के तीन महीने से भी कम समय में किया गया, जिसमें 18-44 आयु वर्ग को शामिल किया गया था. राज्य में रहने वाले कुल 6,821 नेपाली नागरिक इस लिस्ट में शामिल हैं.

जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन्होंने होटल कर्मचारियों को प्राथमिकता दी, जिनमें से अधिकांश लद्दाख के बाहर से हैं. इसके अलावा टैक्सी/सार्वजनिक परिवहन चालकों को पहले टीका लगाया गया, क्योंकि वे पर्यटन उद्योग के फ्रंट वर्कर्स में हैं. गर्मियों के दौरान दूसरे राज्यों से मजदूर और अप्रेंटिस आते हैं, इसलिए उनका भी प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण किया जा रहा है.

‘पोलियो टीकाकरण करने वालों से मिली बड़ी मदद’
अधिकारी ने बताया कि पोलियो के खिलाफ बड़े पैमाने पर टीकाकरण कार्यक्रमों में अनुभवी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के व्यापक नेटवर्क ने टीकाकरण को गति देने में मदद की. पोलियो जैसे कार्यक्रमों में अनुभवी हमारे जमीनी स्तर के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए कोविड टीकाकरण कोई नई बात नहीं थी. उन्होंने कहा कि सब ये एक नया कार्यक्रम था.

‘केंद्र ने की वैक्सीन की पर्याप्त से अधिक आपूर्ति’
अधिकारी ने कहा कि प्रशासन ने औपचारिक रूप से स्वीकृत होने से पहले वास्तव में 18-44 वर्ष आयु वर्ग का टीकाकरण शुरू कर दिया था. उन्होंने कहा कि केंद्र ने वैक्सीन की स्थिर और पर्याप्त से अधिक आपूर्ति सुनिश्चित की है, जिसने स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के विश्वास को बढ़ाया और कठिनाइयों के बावजूद टीकाकरण की गति को तेज किया.