Breaking News छत्तीसगढ़ वायरल सियासत स्लाइडर

भाजपा-कांग्रेस नेताओं में हाईवोल्टेज ड्रामा… भाजपाइयों ने सांसद बैज का काफिला रोका तो टूट पड़े कांग्रेसी… दोनों गुटों में झड़प, गाली-गालौज…

जगदलपुर में सोमवार की दोपहर भाजपा और कांग्रेस के नेताओं में जबर्दस्त झड़प हो गई। दोनों गुटों के नेता एक दूसरे को पीटने पर आमादा थे। हाथापाई को छोड़कर बाकी सबकुछ हुआ। गुस्साए नेता एक दूसरे को गालियां दे रहे थे, एक दूसरे को देख लेने की धमकियां दी जा रही थीं। बड़ी मुश्किल से पुलिस ने किसी तरह नेताओं को शांत करवाया और लगभग 2 से ढाई घंटे तक चले हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद अब माहौल देख लेने की धमकी के साथ खत्म हुआ है। ये धमकी कांग्रेस और भाजपा नेताओं ने एक दूसरे को दी है।

इस वजह से शुरू हुआ बवाल
बस्तर जिला भाजपा दफ्तर के बाहर सोमवार की सुबह कांग्रेस के नेता महंगाई के मुद्दे पर धरना दे रहे थे। सभी केंद्र की भाजपा सरकार को पेट्रोल, डीजल और दूसरी चीजों के बढ़े दामों का जिम्मेदार बताकर नारे लगा रहे थे। इतने में भाजपा युवा मोर्चा के नेता अविनाश श्रीवास्तव वहां पहुंच गए। इन्होंने प्रदेश कांग्रेस सरकार के खिलाफ नारेबाजी कांग्रेसियों के सामने ही शुरू कर दी। ये देख कांग्रेसी गुस्से में आ गए। इसके बाद भाजपा नेताओं की तादाद बढ़ने लगी।

कांग्रेसियों ने भी जवाब में PM मोदी के खिलाफ नारे लगाए। दूसरी तरफ से CM भूपेश बघेल के खिलाफ नारे भाजपा नेता लगाने लगे। पुलिस ने माहौल को भांपकर फौरन आसपास के तीन थानों से स्टाफ बुलवाया। भाजपा दफ्तर के सामने अब दोनों दलों के नेता मरने मारने को आमादा थे। कुछ देर बाद यहां से सांसद दीपक बैज का काफिला गुजरा। भाजपा नेताओं ने नारेबाजी करते ही काफिले को रोकने का प्रयास किया। कांग्रेसी ये देख खुद को रोक न सके। अब बात धक्का-मुक्की तक पहुंच गई। सांसद का काफिला पुलिस की मदद से आगे निकल गया। कांग्रेस के नेताओं ने भाजपा दफ्तर में घुसने का प्रयास किया। इन्हें मुश्किल से पुलिस ने रोका। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों जैसे-तैसे दोनों दलों के नेताओं को समझाकर माहौल शांत करवाया।

उधर कांग्रेसी तैनात, भाजपा घेराव की तैयारी में
भारतीय जनता पार्टी के नेता कांग्रेसियों के रवैये से बेहद नाराज हैं। सूत्रों की मानें तो अब भाजपा कांग्रेसियों का घेराव कर उनकी गुंडगर्दी के खिलाफ आवाज बुलंद करने की तैयारी में है। दूसरी तरफ कांग्रेस नेता भी कांग्रेस भवन में इस घटना के बाद बैठक करते दिखे। कुछ कांग्रेस नेताओं ने साफ कह दिया है कि अगर भाजपा के नेता इस मुद्दे पर हंगामा करेंगे तो हम भी चुप नहीं बैठेंगे। सियासी माहौल में शुरू हुई झड़प अब दोनों नेताओं की वजह से बस्तर का माहौल गर्माया हुआ है।

विज्ञापन

हमसे जुड़ें

Do Subscribe

JOIN us on Facebook