खेलकूद ट्रेंडिंग मनोरंजन यूथ वायरल स्लाइडर

रद्द नहीं हुआ है IPL… BCCI उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने बताया कब होंगे बचे हुए मैच…

कोरोना वायरस से इंडियन प्रीमियर लीग( IPL) के 14वें सीजन पर ब्रेक लगा दिया. कई टीमों में कोरोना के मामले सामने आने के बाद बीसीसीआई ने आईपीएल को सस्पेंड करने का फैसला किया. आईपीएल को रोकने से फैन्स निराश हैं. 9 अप्रैल से शुरू हुए आईपीएल के इस सीजन में 29 मैच खेले गए थे. टूर्नामेंट के 31 मैच और बाकी हैं. ऐसे में सवाल कि बाकी बचे हुए मैच कब खेले जाएंगे. इसका जवाब बीसीसीआई के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने दिया है.

उन्होंने साफ कहा है कि आईपीएल को रद्द नहीं किया गया है, टाला गया है. स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए राजीव शुक्ला ने कहा, ‘ एक बात मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि आईपीएल को रद्द नहीं किया गया है. इसे टाला गया है. आईपीएल-14 के बचे हुए मैच होंगे. उचित समय पर, जब कोविड की स्थिति में सुधार होता है, तो इसके बारे में निर्णय लिया जाएगा.’

बीसीसीआई उपाध्यक्ष ने कहा कि निलंबन का सुझाव देने वाली रिपोर्ट केवल 5 दिनों या एक सप्ताह के लिए है, ये बात भी सच नहीं है. उन्होंने कहा कि ऐसी अटकलें हैं कि पांच दिन या एक सप्ताह के बाद टूर्नामेंट फिर से शुरू होगा, यह संभव नहीं है.

इस वजह से टाला गया आईपीएल
पिछले कुछ दिनों से आईपीएल की कुछ टीमों में कोरोना के मामले सामने आए थे, जिसके बाद बीसीसीआई को टूर्नामेंट को सस्पेंड करने का फैसला लेना पड़ा. कोरोना संकट के बीच इस बार आईपीएल का आयोजन भारत में ही हुआ. शुरुआत में बायो-बबल को तैयार किया गया, जिसमें दावा किया गया कि इससे कोई भी संक्रमण फैलने का खतरा नहीं होगा. लेकिन बीते दो दिनों में ही कई टीमें कोरोना का शिकार हो गईं.

सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के वरुण चक्रवर्ती समेत दो खिलाड़ी कोरोना की चपेट में आ गए थे, जिसके बाद कोलकाता और बेंगलुरु का मैच टाल दिया गया था. KKR के मैच के बाद दिल्ली कैपिटल्स की पूरी टीम को क्वारनटीन कर दिया गया था. सोमवार को ही शाम में चेन्नई सुपर किंग्स के तीन सदस्यों के भी कोरोना की चपेट में आने की जानकारी आई, जिसमें बॉलिंग कोच लक्ष्मीपति बालाजी भी शामिल थे.

मंगलवार को सनराइजर्स हैदराबाद के ऋद्धिमान साहा और दिल्ली कैपिटल्स के अमित मिश्रा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए. लगातार कोरोना के मामले आने के बाद आईपीएल पर संकट बढ़ता जा रहा था. ऐसे में बीसीसीआई ने इसे टालने का फैसला लिया.