क्राइम छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: LOCKDOWN के दौरान नशे के सौदागरों का भंडाफोड़, नशीली कफ सिरप, टेबलेट के साथ 3 तस्कर गिरफ्तार

महासमुन्द। सरायपाली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए नशीले कफ सिरफ व टेबलेट बेचने के फिराक में घूम रहे तीन लोगों को रंगेहाथों गिरफ्तार किया। गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ सरायपाली पुलिस ने नारकोटिक एक्ट की धारा 91 के तहत कार्रवाई कर जेल भेजा।

पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्भूरकर व सरायपाली थाना प्रभारी वीणा यादव ने बताया है कि तीन आरोपी सारंगढ़ बरमकेला से होते हुए छत्तीसगढ़ पहुंच कर सरायपाली और बसना क्षेत्र में प्रतिबंधित नशीले कफ सिरफ और टेबलेट बेचने के फिराक में लगे थे।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली की तीन आरोपी सारंगढ़ बरमकेला से दो मोटरसाइकिल में प्रतिबंधित दवा लेकर सरायपाली पहुंच रहे हैं। सरायपाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर सारंगढ़ के बार्डर के इलाके के ग्राम पोड़ापाली के पास आरोपियों को गिरफ्तार करने टीम लगा रखी थी।

पुलिस को दो मोटर साइकिल में कुछ लोग आते दिखे। इसे देखकर पुलिस सडक़ पर पहुंच रोकने के लिए खड़ी हो गई। पुलिस को सडक़ पर देखकर आरोपियों ने अपने मोट साइकिल को विपरित दिशा में मोडक़र भागने लगे, जिसे सरायपाली पुलिस ने पीछाकर गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार आरोपियों ने अपना नाम शेख मकसुद्दीन पिता शेख तफरूद्दीन, अशोक दुबे पिता नंदकुमार दुबे, बाबूलाल सागर पिता चतुरसिंग सागर निवासी सरायपाली बताया है।

पुलिस ने तीनों आरोपियों के पास से एक बैग में 5 सौ नग ओनरेक्स सिरफ और अल्फासेफ नामक नशीली टेबलेट 6 सौ नग बरामद की। इसकी अनुमानित कीमत 2 लाख 50 हजार के लगभग बताई जा रही है। गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने नारकोटिक्स एक्ट की धारा 91 के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया है।