छत्तीसगढ़ स्लाइडर

कोविड सेंटर से भाग कर युवक ने लगाई फांसी… एक हफ्ते से चल रहा था इलाज… पिता भी कोरोना पॉजिटिव…

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले के साजा कोविड सेंटर से भागकर शुक्रवार की रात एक कोरोना मरीज ने बबूल के पेड़ के सहारे फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतक का तखत वर्मा (32 वर्ष) बरगा गांव का रहने वाला था। तखत पिछले एक हफ्ते से कोविंड सेंटर में भर्ती था। साथ ही उसके पिता भी कोरोना पॉजिटिव हैं।

जानकारी के मुताबिक, तखत सेंटर से भाग कर अपने गांव बरगा आ गया था, काफी परेशान था। सुबह पेड़ से लटकी लाश देखने पर आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस और मृतक के परिजनों ने PPE किट पहन कर शव को पेड़ से उतारा। पुलिस ने बताया कि शव का पंचनामा कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल अभी मृतक किस वजह से खुदकुशी की है। इसका कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। हमारी छानबीन जारी है।

जिला प्रशासन के सामने बड़े सवाल

आखिर कोरोना मरीज इस तरह के आत्मघाती कदम उठाने पर क्यों मजबूर हुआ?

क्या कोविड सेंटर में इलाज का अभाव है?

अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए मानसिक तौर पर उन्हें मजबूत करने के लिए क्या प्रयास किए जा रहे हैं?

अगर कोविड सेंटर से मरीज भाग जा रहे हैं, तो वहां पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम नहीं हैं?

ऐसे मरीजों को लगातार निगरानी करने की जरूरत क्यों नहीं समझी जा रही हैं?

क्या कोविड सेंटर में व्यवस्थाओं का अभाव हैं?