देश -विदेश यूथ स्लाइडर

छत्तीसगढ़: 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए जरूरी खबर… इस वजह से कैंसिल हो सकती है बोर्ड परीक्षाएं… जानें लेटेस्ट अपडेट…

भारत में कोरोना के मामले सवा लाख रोजाना से भी ऊपर हो गए हैं. ऐसे में कोरोना के कहर के बीच चार मई से होने वाली सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर तमाम तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. पिछले कुछ दिनों से ट्विटर पर बोर्ड परीक्षाएं टालने को लेकर भी हैशटैग #cancelboardexams2021, #CancelourCBSEboardexams2021 और #CancelBoards2021 का अभियान चल रहा है. हालांकि अब बोर्ड परीक्षाओं को लेकर सीबीएसई ने स्‍पष्‍टीकरण दे दिया है.

सीबीएसई बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने बताया कि सीबीएसई बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं तय समय पर ही होंगी. फिलहाल बोर्ड परीक्षा शेड्यूल में बदलाव करने को लेकर कोई फैसला नहीं किया गया है. कोरोना के दौरान सुरक्षित वातावरण में परीक्षाएं कराने के लिए बोर्ड और स्‍कूलों की ओर से तैयारी की जा रही है. इतना ही नहीं छात्रों और अभिभावकों की ओर से भी परीक्षाएं कराए जाने को लेकर सकारात्‍मक रुख देखा जा रहा है.

उन्‍होंने कहा कि 12वीं के बाद छात्रों की एक बड़ी संख्‍या विदेशों में आगे की पढ़ाई करने के लिए जाती है इसके अलावा छात्र विभिन्‍न प्रतियोगी और आईआईटी या नीट जैसी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं. लिहाजा समय से छात्रों की परीक्षाएं होने के साथ ही परिणाम भी आना जरूरी है. डॉ. भारद्वाज ने कहा कि बोर्ड बच्‍चों की जिंदगी और और सेहत के प्रति पूरी तरह जागरुक और सतर्क है.

ट्विटर पर चल रहे परीक्षा रोको अभियान के सवाल पर डॉ. संयम ने कहा कि विरोध करने वालों की कुछ संख्‍या हो सकती है लेकिन ज्‍यादातर अभिभावकों की ओर से सहयोग की बात सामने आई है. वहीं स्‍कूल के शिक्षक और प्रधानाचार्य भी इन 35 लाख बच्‍चों के भविष्‍य को लेकर जुटे हुए हैं.