टेक्नोलॉजी यूथ स्लाइडर

Google Pay से ट्रांजेक्शन फेल होने पर क्या करें… जल्दी में ऐसे रिफंड करा सकते हैं पैसा…

डिजिटल पेमेंट में गूगल पे का बड़ा नाम है. शहर से लेकर गांव तक लोग गूगल पे का इस्तेमाल करते हैं. बड़े बिजनेस से लेकर छोटे काम धंधे में लोग इसका धड़ल्ले से उपयोग कर रहे हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि गूगल पे से कभी ट्रांजेक्शन फेल हो जाए, आपके अकाउंट से पैसे कट जाएं लेकिन पेमेंट न हो, तो क्या करना चाहिए. इसका तरीका आसान है, लेकिन रिफंड के लिए कुछ दिन इंतजार करना पड़ता है.

सवाल यह भी है कि गूगल पे से ट्रांजेक्शन फेल होने पर पैसा रिफंड कौन करेगा. रिफंड गूगल पे करता है या वह मर्चेंट करता है जिसके लिए पेमेंट किया गया है. नियम के मुताबिक, गूगल पे से जुड़ा मर्चेंट ही रिफंड और फेल ट्रांजेक्शन को हैंडल करता है. गूगल पे खुद कभी भी रिफंड की प्रक्रिया शुरू नहीं करता. जिस कंपनी या बिजनेस के लिए आपने ट्रांजेक्शन किया है, वह रिफंड की प्रक्रिया शुरू करता है. इसके लिए आपको बिजनेस या कंपनी से संपर्क करना होता है और ट्रांजेक्शन से जुड़ी कुछ डिटेल देनी होती है. कुछ दिनों में आपका पैसा रिफंड हो जाता है.



कब रिफंड होगा पैसा
गूगल पे ने इसके बारे में पूरी जानकारी दी है और एक लिंक भी शेयर किया है, जहां अपनी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है. गूगल पे के मुताबिक, फेल ट्रांजेक्शन का पैसा खाते में रिफंड कर दिया जाता है और यह काम 3-5 दिन के अंदर पूरा किया जाता है. पैसा कितने दिन में रिफंड होगा, यह बैंक के खुलने और बंद होने पर निर्भर करता है. अगर बीच में छुट्टी का दिन पड़ जाए तो इसमें देरी हो सकती है. गूगल पे ने कहा है कि इतने दिनों में अगर पैसा रिफंड नहीं होता है तो ग्राहक इस लिंक https://goo.gle/2zd8M9t के माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं.

ऐसे करें शिकायत
रिफंड पाने के लिए आप चाहें तो और भी तरीके का इस्तेमाल कर सकते हैं. ऑफिशियल गूगल पे वेबसाइट या ऐप के जरिये कस्टमर केयर पर आपको शिकायत करनी होगी. ध्यान देने वाली बात यह है कि गूगल पे का कोई कस्टमर केयर नंबर नहीं है, जहां आप फोन कर शिकायत दर्ज करा सकें. आपको शिकायत गूगल पे हेल्प सेंटर की सहायता से दर्ज करानी होगी. गूगल पे ऐप पर ‘Help and feedback’ सेक्शन दिखेगा जहां आप अपनी बात रख सकते हैं. यहां से आप कस्टमर सपोर्ट एक्जक्यूटिव को फोन करने के लिए रिक्वेस्ट कर सकते हैं. आपकी शिकायत दूर हो, इसके लिए ऐप की मदद से चैट भी कर सकते हैं.



गूगल पे ये बातें नहीं पूछता
इस बीच, आपको यह भी जानना जरूरी है कि गूगल पे आपसे कभी भी क्रेडिट, डेबिट कार्ड का पिन, सीवीवी या पासवर्ड नहीं पूछता. ऐप से अलग गूगल किसी तरह के पेमेंट लेने या देने की बात नहीं करता. फोन, ईमेल या किसी कम्युनिकेशन चैनल के माध्यम से गूगल पे आपसे कोई जानकारी नहीं मांगता. गूगल पे का रिफंड पाने के लिए आपको बिजनेस या कंपनी से भी मदद लेने की बात कही जाती है. इस दौरान आपको कम से कम अपनी पर्सनल जानकारी देनी चाहिए. एक बार सभी प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद पैसा तुरंत रिफंड हो जाता है. हालांकि अधिकतम 30 दिन का वक्त होता है जिसमें आपका पैसा रिफंड हो सकता है.



कैशबैक न मिले तो क्या करें
कभी-कभी ऐसा भी होता है कि आपका पैसा बिना किसी शिकायत के रिफंड कर दिया जाता है. ट्रांजेक्शन फेल होने पर कंपनी अपने आप रिफंड की प्रक्रिया शुरू कर देती है. कंपनियां गूगल पे से पेमेंट करने पर कैशबैक देने का ऑफर भी देती हैं. अगर किसी स्थिति में कैशबैक नहीं मिले तो मर्चेंट को शिकायत कर सकते हैं. कंपनी अगर कैशबैक नहीं देती है या फेल ट्रांजेक्शन का पैसा नहीं लौटाती है तो आप गूगल पे को रिपोर्ट कर सकते हैं. हालांकि कैशबैक का मामला गूगल पे के जरिये सुलझ ही जाएगा, यह कहना निश्चित नहीं है.

यह भी देखें:

Ind vs Eng: चौथे टी20 में ऐसी होगी विराट कोहली की प्‍लेइंग इलेवन! जानिए केएल राहुल की हालत…