क्राइम छत्तीसगढ़ स्लाइडर

दोस्त की 7 साल की भांजी से दुष्कर्म किया… मरने पर ट्रेन के आगे फेंककर भाग गया… पुलिस ने पकड़ा तो किया…

File Photo

सोमनी के बघेरा में 7 साल की उन्नति मानिकपुरी की मौत की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। उन्नति का क्षत-विक्षत शव 1 मार्च को मुढ़ीपार रेलवे ट्रैक पर मिला था। मामले में पुलिस ने उन्नति के छोटे मामा के दोस्त दीपक बघेल को गिरफ्तार किया है, जिसे भी उन्नति मामा ही बुलाती थी ।

सोमनी पुलिस ने बताया कि मूलत: बेमेतरा के नवागढ़ के रहने वाले आरोपी दीपक बघेल का लंबे समय से उन्नति के छोटे मामा से दोस्ती थी, वह आए दिन बघेरा आता और उसी के घर में ठहरता था । 28 मार्च को भी वह बघेरा आया था। रात में नशे की हालत में वह अपने दोस्त के घर पहुंचा। जहां घर में खेल रही उन्नति को गांव में हो रहे जस गीत प्रतियोगिता दिखाने की बात कहकर ले गया। इसके बाद से उन्नति घर नहीं लौटी। दूसरे दिन 1 मार्च को उन्नति का शव रेलवे ट्रैक पर मिला। पुलिस ने बताया कि आरोपी दीपक उन्नति को रेलवे ट्रैक की ओर ले गया, जहां उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान ही उन्नति की मौत हो गई, आरोपी ने उसके शव को चलती ट्रेन के सामने फेंक दिया।



रिक्रिएशन के दौरान भागने का प्रयास किया
सोमनी पुलिस की टीम आरोपी दीपक बघेल को रिक्रिएशन के लिए घटना स्थल लेकर पहुंची। जहां आरोपी ने पहले शौच करने की बात कही। शौच के बहाने आरोपी भागने का प्रयास करने लगा, भागते हुए जब रेलवे ट्रैक पर वह गिरा तो पटरी किनारे पड़ी गिट्टी को उठाकर अपनी गर्दन काट आत्महत्या का प्रयास करने लगा। इसमें उसके गले पर कटने व खरोच की स्थिति बनी है, जिसे पकड़कर पुलिस ने इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में दाखिल किया है। यहां पूरी चौकसी बरतते हुए उस पर नजर रखी जा रही है।

घटना के बाद से मोबाइल बंद कर फरार था आरोपी, ससुराल में पुलिस पहुंची तो छिप गया
घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी दीपक फरार हो गया। उसका मोबाइल फोन भी बंद हो गया था। पुलिस ने जब मामले की पूछताछ शुरू की तो उन्नति की मां और परिवार के दूसरे सदस्यों ने भी दीपक पर ही संदेह जताया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी दीपक की खोजबीन शुरू की। दीपक अपने ससुराल सिलतरा में छिपा हुआ था। पुलिस जब सिलतरा पहुंची तो दीपक पलंग के नीचे छिप गया, पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया।

पीएम रिपोर्ट में दुष्कर्म के दौरान ही मौत की पुष्टि
उन्नति का पीएम करने वाले डॉक्टर ने उसके साथ दुष्कर्म की पुष्टि की। इसके बाद पुलिस ने जांच और तेज कर दी थी। गांव से करीब तीन किलोमीटर दूर रेलवे ट्रैक पर उन्नति की क्षत विक्षत लाश मिलने से पहले ही मामला हत्या का लगने लगा था। इसके बाद पीएम रिपोर्ट ने जांच की दिशा तय कर दी। पीएम रिपोर्ट के मुताबिक दुष्कर्म के दौरान ही उन्नति ने दम तोड़ दिया था, उसके मृत शरीर को आरोपी दीपक ने ट्रेन के सामने फेंका था। बताया गया कि दीपक नशे का आदी था और नशे में ही उसने इस घृणित काम को अंजाम दिया।

आरोपी दीपक को फांसी की सजा देने की मांग
इस हादसे से उन्नति की मां पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। डेढ़ साल पहले ही उन्नति के पिता की मौत सड़क हादसे में हुई थी। इसके बाद उसकी मां 7 साल की उन्नति और 5 साल के बेटे को लेकर अपने मायके में रहने आ गई थी । जहां अब मुंहबोले मामा ने अपनी हवस के लिए उन्नति की जिंदगी खत्म कर दी। आरोपी दीपक को उन्नति के परिजनों सहित ग्रामीणों ने फांसी की सजा देने की मांग की है। ताकि भविष्य में दोबारा कोई भी ऐसा कृत्य न कर पाए।



दीपक के घर आने का विरोध करती थीं परिवार की महिलाएं
आरोपी दीपक बघेल और उन्नति के छोटे मामा एक साथ रसमड़ा की एक फैक्ट्री में काम करते थे। इसी दौरान दोनों की दोस्ती हुई थी। आरोपी दीपक की पत्नी और बच्चे उसके साथ नहीं रहते। आए दिन वह अपने दोस्त से मिलने के नाम पर बघेरा आया करता था, जहां कई दिनों तक ठहरता था। दीपक के बार-बार घर आने का विरोध उनके परिवार की महिला सदस्य करतीं थीं। दीपक नशे का भी आदी था। नशे में धुत होकर वह कई बार उन्नति के मामा के घर पहुंचता था। घटना के दिन भी वह बच्ची को जस गीत प्रतियोगिता दिखाने के नाम पर घर से साथ में ले गया। फिर क्रूरता की हदें पार करते हुए मासूम के साथ ऐसा कृत्य किया।