देश -विदेश यूथ स्लाइडर

खुशखबरी ! 10 लाख लोगों को मिलेंगी नौकरियाँ… जानिए सरकार का नया पोर्टल Saksham कैसे करता है काम…

सरकार अब डिजिटल माध्यम से लोगों को अपनी सेवाएं उपलब्ध करवा रही हैं. ऐसे ही सरकार की ओर से एक पोर्टल की भी शुरुआत की गई है, जिसके माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों को नौकरियां मिल सके. इस पोर्टल के माध्यम से एमएसएमई कंपनियों का श्रमिकों से सीधा संपर्क करवाया जाएगा.

इससे कई लोगों को रोजगार मिलने में मदद होगी और हर कोई बड़ी कंपनियों के साथ जुड़ सकेगा. इस पोर्टल की शुरुआत पिछले महीने ही की गई है और अभी इसकी शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर की गई है. यानी अभी कुछ जिलों में ही इस वेबसाइट की शुरुआत हुई है और धीरे-धीरे इसका विस्तार किया जाएगा. ऐसे में जानते हैं इस पोर्टल का फायदा किन-किन लोगों को मिलेगा और किस तरह से इसका फायदा उठाया जा सकता है. जानिए इस पोर्टल से जुड़ी कुछ खास बातें…

क्या है सक्षम?

टाइफैक (Technology Information Forecasting and Assessment Council) ने एमएसएमई की जरूरतों और श्रमिकों के कौशल को आपस में जोड़कर ‘सक्षम’ नाम के इस रोजगार पोर्टल की शुरुआत की है. इसकी शुरुआत 11 फरवरी को की गई थी, जिसके जरिए एमएसएमई कंपनियों का श्रमिकों से सीधा संपर्क करवाया जाएगा. इससे उन्हें आसानी रोजगार मिल सकेगा.

इस पोर्टल की शुरुआत इस लक्ष्य के साथ की गई है कि इससे श्रमिकों को नौकरी मिलने की प्रक्रिया के बीच आने वाले बिचौलिए ठेकेदार खत्म हो जाएंगे और श्रमिकों को अपने टैलेंट के हिसाब से नौकरी मिल पाएगी. यह अलग अलग शहरों में श्रमिकों को उनके टैलेंट के हिसाब से उद्योगों में संभावित रोजगार के अवसरों की जानकारी देता है. इसमें एलगारिथम और आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किया गया है. साथ ही अगर आप कोई ट्रेनिंग लेना चाहते हैं तो इसे लेकर भी इसमें जानकारी दी गई है. लॉन्चिंग के दौरान इसे पायलट परियोजना के तौर पर फिलहाल दो जिलों में शुरु किया गया है. पोर्टल ने पूरी तरह से काम करना शुरु कर दिया है. इस पोर्टल का एड्रेस है www.sakshamtifac.org

कैसे कर रहा है काम?

इस पोर्टल पर श्रमिक और उद्योगों से संबंधित डेटा/जानकारी को विभिन्न व्हाट्सएप और अन्य लिंक के माध्यम से स्वचालित रूप से अपडेट किया जा रहा है. सोशल मीडिया सहित विभिन्न चैनलों के माध्यम से पूरे देश में श्रमिक और एमएसएमई के बीच इसे लोकप्रिय बनाने का प्रयास किया जा रहा है. इसके लिए विभिन्न राज्य सरकारों और एमएसएमई समूहों आदि के साथ भी चर्चा चल रही है. इसमें लोग मुफ्त में अपनी जानकारी दे सकते हैं.

क्या है खास बातें?

इससे श्रमिकों के साथ एमएसएमई को अभी अवसर मिल रहा है और उन्हें बिना किसी दिक्कत के आसानी से काम के लिए श्रमिक मिल जा रहे हैं. सरकार की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, दस लाख लोगों को रोजगार का अवसर उपलब्ध करवाए जाने की सुविधा है. इससे श्रमिकों और एमएसएमई के बीच सीधा संपर्क साधा जा रहा है और इससे बिचौलियों को खत्म करने की कोशिश की जा रही है. इससे श्रमिकों के विस्थापन पर रोक लगाने काम काम किया जाएगा.