देश -विदेश व्यापार स्लाइडर

6 करोड़ लोगों के लिए बड़ी खबर! आज सरकार घटा सकती है पीएफ पर ब्याज दरें…

नई दिल्ली: EPF interest rates: केंद्र सरकार (Central Government) आज देश के 6 करोड़ नौकरीपेशा लोगों के लिए बड़ा फैसला लेने जा रही है. पीएफ पर मिलने वाली ब्याज दरों की आज घोषणा की जाएगी. लंबे समय से इंतजार कर रहे कर्मचारियों को आज पता चलेगा कि ब्याज दरों में कटौती होगी या फिर इजाफा.

EPFO की सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (CBT) की बैठक आज यानी 4 मार्च, 2021 को श्रीनगर में होगी, जिसमें वित्त वर्ष 2020-21 के लिए प्रोविडेंट फंड (Provident Fund) पर मिलने वाले इंटरेस्ट रेट्स की घोषणा हो सकती है. हालांकि, इस साल EPFO के सब्सक्राइबर्स को झटका लग सकता है.



ऐसा माना जा रहा है कि वित्त वर्ष 2020-21 के लिए मिलने वाले पीएफ ब्याज दरों में सरकार कटौती कर सकती है. बता दें साल 2019-20 के लिए ब्याज दरें 8.5 फीसदी थी. पिछले साल कोरोना महामारी की वजह से देश की आर्थिक स्थिति में गिरावट देखने को मिली है तो इस बार सरकार ब्याज दरों में कटौती कर सकती है.

2012-13 के बाद है निचला स्तर
आपको बता दें कि 2019-20 के लिए PF पर मिलने वाली ब्याज दर 2012-13 के बाद का यह सबसे निचला स्तर है. 2018-19 में EPFO ने सब्सक्राइबर्स को 8.65 फीसदी की दर से ब्याज का भुगतान किया था.

हर साल होती है ब्याज दरों की घोषणा
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन प्रत्येक वित्तीय वर्ष के लिए पीएफ राशि पर ब्याज दर की घोषणा करता है. वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ब्याज दरों की घोषणा करते हुए बोर्ड ने कहा था कि वह 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में दो किस्तों में 8.5 फीसदी ब्याज का भुगतान करेगा. पहली किस्त में 8.15 फीसदी डेट इन्वेस्टमेंट (Debt Instrument) से और दूसरी किस्त में 0.35 फीसदी ब्याज का भुगतान इक्विट (Equity) से किया जाएगा.



अब तक कितनी रही हैं पीएफ पर ब्याज दरें-
>> 2019-20 – 8.5 फीसदी
>> 2018-19 – 8.65 फीसदी
>> 2017-18 – 8.55 फीसदी
>> 2016-17 – 8.65 फीसदी
>> 2015-16 – 8.8 फीसदी
>> 2013-14 – 8.75 फीसदी