Breaking News देश -विदेश स्लाइडर

जानें क्या है कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स… किन-किन लोगों को नही लगवाना चाहिए…

नई दिल्ली. देशभर में 1 मार्च से शुरू हुए कोरोना वायरस वैक्सीनेशन (Coronavirus Vaccination 2.0) के दूसरे फेज में 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों और 45 साल से ऊपर के गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों को टीके लगाए जा रहे हैं. देश में 50 लाख लोगों ने टीके के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है, इनमें से 6.44 लाख लोगों को सोमवार को ही अपॉइंटमेंट मिल गया. पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने टीका लगवाया. उन्हें भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोवैक्सीन (Covaxin) का शॉट दिया गया. दूसरे दिन स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने वैक्सीन का डोज लिया. हालांकि, अभी भी लोगों के मन में वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स को लेकर एक तरह का डर है. लोग वैक्सीन लगवाने से पहले कंफर्म करना चाह रहे हैं कि कोविशील्ड या कोवैक्सीन लगवाने के बाद शरीर में कौन से लक्षण दिखाई देते हैं.



आइए जानते हैं कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) के क्या-क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं और किन लोगों को कौन सी वैक्सीन लगानी चाहिए…

सरकार ने कहा है कि कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) दोनों सेफ हैं, लेकिन इनके कुछ सामान्य साइड इफेक्ट्स हैं. ये वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों ने वैक्सीनेशन के बाद शरीर पर पड़ने वाले संभावित साइड इफेक्ट्स के बारे में अपनी वेबसाइट पर फैक्ट शीट शेयर की है.

कोवैक्सिन किसे नहीं लेनी चाहिए?

>>जिन लोगों को एलर्जी, बुखार, ब्लड से जुड़ी बीमारी है या खून पतला है उन्हें कोवैक्सीन नहीं लेनी चाहिए.

>>ऐसे लोग जो कोई दवा ले रहे हैं, जिससे आपका इम्यून सिस्टम प्रभावित होता है; उन्हें भी ये वैक्सीन नहीं लगानी है.

>>प्रेग्नेंट महिलाओं, ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली मां, हाल ही में कोई दूसरी वैक्सीन लगा चुकी महिला या किसी शख्स को भी कोवैक्सीन का डोज नहीं लेने की सलाह दी गई है.

>>टीकाकरण की देखरेख करने वाले टीकाकरण अधिकारी द्वारा निर्धारित स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याएं पाए जाने पर भी कोवैक्सिन नहीं लेनी चाहिए.



कोवैक्सिन के क्या साइड-इफेक्ट्स हैं?

>>कोवैक्सीन के हल्के साइड इफेक्ट्स हैं. इनमें इंजेक्शन वाली जगह पर दर्द, सूजन, लाल निशान, खुजली, ऊपरी बांह में कठोरता, इंजेक्शन लगे हाथ में कमजोरी, शरीर में दर्द, सिरदर्द, बुखार, अस्वस्थता, कमजोरी, चकत्ते, मतली, उल्टी शामिल है.

>>कंपनी ने कहा कि बहुत कम संभावना है कि टीका गंभीर एलर्जी रिएक्शन का कारण बनता है. एक गंभीर प्रतिकूल घटना के संकेतों में सांस लेने में कठिनाई, चेहरे और गले में सूजन, तेजी से दिल की धड़कन, पूरे शरीर पर चकत्ते, चक्कर आना और कमजोरी शामिल हैं.

कोविशील्ड किसको नहीं लगवानी चाहिए?

>>सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की फैक्ट-शीट कहती है कि जिन लोगों को कभी भी किसी दवा, भोजन, किसी वैक्सीन के बाद एलर्जी का गंभीर रिएक्शन (एनाफिलेक्सिस) होता है, उन्हें दवा से बचना चाहिए.



>>जिन लोगों को बुखार होता है, उनमें खून की बीमारी है या खून पतला होता है, उन्हें कोविशील्ड नहीं लेनी है.

>>इम्यूनोकम्प्रोमाइज़्ड लोग, जो ऐसी दवा पर होते हैं जो इम्यून सिस्टम को इफेक्ट करता है; उन्हें भी टीका नहीं लगवाना चाहिए.

>>जो गर्भवती हैं या गर्भवती होने का प्लान बना रही हैं, ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली महिलाओं को भी टीका छोड़ना चाहिए.

>>जिन लोगों ने एक और एंटी-कोविड वैक्सीन ली है, उन्हें कोविशील्ड नहीं लेना चाहिए.

>>जिन लोगों को इस टीके की पिछली खुराक के बाद एलर्जी रिएक्शन हुआ था, उन्हें भी दवा लेने से बचना चाहिए.

कोविशील्ड के क्या साइड-इफेक्ट्स हो सकते हैं?

>>इस वैक्सीन के सामान्य साइड इफेक्ट्स में दर्द, गर्मी, लाल निशान, खुजली, सूजन हो सकती है.



>>आम तौर पर व्यक्ति अस्वस्थ, थकावट महसूस करते हैं. ठंड लगना या बुखार महसूस करना, सिरदर्द, बीमार महसूस करना (मतली), जोड़ों में दर्द या मांसपेशियों में दर्द दर्द, इंजेक्शन वाली जगह पर गांठ, बुखार, बीमार होना (उल्टी), फ्लू जैसे लक्षण, जैसे हाई टेंपरेचर, गले में खराश, नाक बहना, खांसी और ठंड लगना भी सामान्य साइड इफेक्ट्स में शामिल है.

>>असामान्य साइड इफेक्ट्स में चक्कर आना, भूख में कमी, पेट दर्द, बढ़े हुए लिम्फ नोड्स, अत्यधिक पसीना, स्किन पर खुजली या दाने हैं.

साइड इफेक्ट्स के लक्षण दिखे तो क्या करें?
सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार अगर आपको दर्द या बेचैनी है, तो अपने डॉक्टर से बात करें. ओवर-द-काउंटर दवा लेने के बारे में जैसे कि इबुप्रोफेन, एस्पिरिन, एंटीथिस्टेमाइंस, या एसिटामिनोफेन, किसी भी दर्द और असुविधा के लिए जिसे आप टीका लगने के बाद अनुभव कर सकते हैं.

अगर आपको कोई अन्य कोई बीमारी नहीं हैं जो आपको इन दवाओं को सामान्य रूप से लेने से रोकते हैं तो आप इन दवाओं को पोस्ट-वैक्सीनेशन के साइड इफेक्ट्स से राहत देने के लिए ले सकते हैं. ध्यान रहे, वैक्सीन लेने से पहले ऐसी कोई दवा न लें, क्योंकि इससे गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं.