Breaking News देश -विदेश स्लाइडर

चार दिन और रहेगा शीतलहर का कहर… इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश…

देश में ठंड का कहर कम नहीं हो रहा है। उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड के कारण लगातार चल रही शीत लहर फिलहाल चार दिन और कहर बरपाएगी। उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में शीतलहर के कारण लोगों का हाल बेहाल है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) मंगलवार को ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए बताया कि उत्तर भारत में अभी कुछ दिन और शीतलहर चलने की संभावना है। साथ ही मौसम विभाग ने तमिलनाडु और पुडुचेरी के लिए भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग के मुताबिक शुष्क उत्तरी और उत्तर पश्चिमी हवाओं के कारण भारत से अधिकतर इलाकों में आने वाले 4-5 दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रह सकता है। इस कारण पंजाब, हरियाणा सहित चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तराखंड में 3 दिनों में तेज शीतलहर चलने की संभावना है। साथ ही इस शीत लहर का असर मध्यप्रदेश और राजस्थान में भी रहेगा। आईएमडी के मुताबिक 13 से 16 जनवरी तक पंजाब, हरियाणा और उत्तरप्रदेश के लिए और 13 जनवरी को राजस्थान के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।



ये हैं ऑरेंज अलर्ट का मतलब
मौसम विभाग के मुताबिक ऑरेंज अलर्ट का अर्थ होता है कि खतरे की पूरी आशंका है और संबंधित विभाग उसका सामना करने के लिए पूरी तैयारी कर लेना चाहिए।

तटीय इलाकों में भारी बारिश की संभावना
कोमोरिन क्षेत्र में चक्रवात के प्रभाव से तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे और लक्षद्वीप में अगले दो-तीन दिन वर्षा होने की संभावना ज्यादा है। कोरोरिन क्षेत्र तमिलनाडु के दक्षिणी भाग यानी कन्याकुमारी जिले के कुछ क्षेत्रों के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

कड़ाके की सर्दी के लिए अलर्ट
गौरतलब है कि पहाड़ी इलाकों में इस वर्ष भीषण बर्फबारी हो रही है और इस कारण शीतलहर का प्रकोप जारी है। बर्फीली हवाओं के कारण हाड़ कंपाने वाली ठंड की चपेट में पूरा उत्तर प्रदेश आ चुका है। इसके अलावा सर्द हवाओं ने गलन काफी बढ़ा दी है। कोहरा, सामान्य से तेज हवा और देर से निकली धूप ने पारा और तापमान गिरा दिया। मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिन में कड़ाके की सर्दी का अलर्ट जारी किया है।



कश्मीर घाटी में भी यलो अलर्ट
आईएमडी ने अगले 24 घंटे में कई इलाकों के लिए येलो अलर्ट जारी किए हैं। कश्मीर के श्रीनगर में तापमान 0 से 0.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो कि पिछले रात शून्य से 2.6 डिग्री सेल्सियस नीचे से ज्यादा है। वहीं गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से 9.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। कश्मीर घाटी में गुलमर्ग सबसे ज्यादा ठंडा स्थान रहा है।