Breaking News देश -विदेश व्यापार स्लाइडर

बर्ड फ्लू के चलते चिकन और अंडे की कीमतों में भारी गिरावट, किस राज्य में क्या है भाव? देखें लिस्ट…

नई दिल्ली. बर्ड फ्लू (Bird flu) ने पोलट्री मार्केट की कमर तोड़ कर रख दी है. ठंड का मौसम चिकन और अंडे बेचने वालों के लिए कमाई का असली मौसम होता है. लेकिन इस बार बर्ड फ्लू ने इनके कारोबार को जोर का झटका दिया है. देश के 10 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद चिकन और अंडे की कीमतें (chicken and eggs) हर रोज लगातार तेजी से नीचे आ रही है. कई राज्यों में तो चिकन की कीमत 60 रुपये किलो से भी कम हो गई है. बता दें कि अब तक जिन 10 राज्यों में केंद्र सरकार की तरफ से बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है वो हैं- केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तराखंड और दिल्ली.



पिछले हफ्ते बुधवार से देश के कई हिस्सों से पक्षियों की मरने की खबरें आ रही हैं. तब से लेकर अब तक पोलट्री मार्केट में हंगामा मचा है. महाराष्ट्र में चिकन की कीमतें प्रति किलो 82 से 58 रुपये प्रति किलो पहुंच गई है. गुजरात में 94 रुपये से 65 रुपये और तमिलनाडु में 80 रुपये 70 रुपये पहुंच गई है. इसी दौरान अंडे की कीमतों में भी भारी गिरावट दर्ज की जा रही है. तमिलनाडु के नमक्कल में एक अंडे की कीमत 5.10 रुपये से गिरकर 4.20 रुपये हो गई है. हरियाणा के बरवाला में एक अंडे की कीमत 5.35 रुपये से नीचे गिरकर 4.05 रुपये हो गई है. पुणे में भी अब 4.50 रुपये के एक अंडे मिल रहा है.

किसानों को भारी नुकसान
अंगेंजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए पुणे के एक किसान दीपक पवाले ने कहा कि उनके पास 40 हजार मुर्गियां है. लेकिन बर्ड फ्लू के चलते वो लागत से कम कीमतों पर चिकन बेच रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘मुझे हर एक किलो के लिए करीब 74 रुपये खर्च करने पड़ते हैं. कोरोना के दौरान मुझे करीब 30 लाख का नुकसान हुआ. उस वक्त चिकन की कीमते 10-15 रुपये प्रति किलो पहुंच गई थी. जैसे ही हमारे कारोबार में थोड़ा थोड़ा सुधार हो रहा था अब बर्ड फ्लू ने हमें परेशान कर दिया है.



लगातार कम हो रही है बिक्री
एक अनुमान के मुताबिक भारत में हर रोज़ औसतन करीब 1.3 करोड़ बॉयलर चिकन और 20 करोड़ अंडे बेचें जाते हैं. ठंड के मौसम में बिजनेस काफी बढ़ जाता है और हर रोज़ औसतन 1.5 करोड़ चिकन और करीब 28-29 करोड़ अंडे बेचे जाते हैं. लेकिन बर्ड फ्लू के चलते चिकने की बिक्री में इस बार 30-40 फीसदी की गिरवाट आ गई है. कहा जा रहा है कि अगले कुछ दिनों में हालात और भी खराब हो सकते हैं.