टेक्नोलॉजी ट्रेंडिंग स्लाइडर

कोरोना वैक्सीन के लिए कैसे कराएं Co-WIN ऐप पर रजिस्ट्रेशन? जानिए सबकुछ…

नई दिल्ली. देश में दो कोविड-19 वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिल गई है. इसमें पहली वैक्सीन सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और दूसरी भारत बायो टेक की है. यदि आपको भी टीका करण करना है तो उसके लिए आपको सरकार द्वारा बनाए गए Co-WIN app पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा. वहीं आपको बता दें इस ऐप को फिलहाल गूगल प्ले स्टोर या एप्पल के ऐप स्टोर पर अप लोड नहीं किया गया है. यदि आपने इसी तरह का कोई ऐप अपने मोबाइल में डाउनलोड किया है तो मान ले वह फर्जी है और आपको इससे नुकसान हो सकता है. आइए जानते है Co-WIN app को सरकार कब तक जारी करेंगी व इस पर किस तरह से आपको रजिस्ट्रेशन कराना होगा.



Co-WIN ऐप से कैसे होगा फायदा- इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन कराने से पहले यह जानना जरूरी है कि इस ऐप से क्या फायदा होगा. आपको बता दें देश में सबसे पहले फ्रंटलाइन कर्मी और उसके बाद 50 साल से ऊपर के लोगों का टीका करण होगा. जिसके बाद अन्य लोगों का टीका करण होगा. ऐसे में Co-WIN ऐप इस पूरी प्रक्रिया को पालन करने मददगार साबित होगा. जिसमें Co-WIN प्लेटफॉर्म की मदद से लाभार्थियों के रजिस्ट्रेशन और वेरिफिकेशन की सुविधा मिलेगी. इसके साथ टीका करण का कार्यक्रम तय करना, उसके संबंध में एसएमएस भेजना और डोसेज के बारे में सूचना देना. इसके अलावा टीका करण के बाद किसी बुरे प्रभाव के बारे में सूचित करना और टीका लगने के बाद ई-सर्टिफिकेट जारी करना शामिल है.

कैसे होगा रजिस्ट्रेशन ? इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, एक बार लाइव होने के बाद Co-WIN ऐप या वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन पर रजिस्ट्रेशन के तीन ऑप्शन मिलेंगे जिसमें सेल्फ रजिस्ट्रेशन, इंडीविजुअल रजिस्ट्रेशन और बल्क अपलोड शामिल होगा. ऐसा मुमकिन है कि सरकार कैंप का आयोजन करे, जहां लोग जा सकते हैं और अधिकारी उन्हें वैक्सीन के लिए रजिस्टर करेंगे. इसके साथ सर्वे करने वालों और जिला प्रशासन की भी लाभार्थियों को रजिस्टर करने में मदद ली जाएगी.

जरूरी दस्तावेज- लोगों को रजिस्टर करने के लिए एक फोटो आईडी को भी अपलोड करना होगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने वैक्सीन के रजिस्ट्रेशन के लिए जरूरी दस्तावेजों की जानकारी दी है. इन दस्तेवाजों में आधार,ड्राइविंग लाइसेंस,वोटर आईडी,पैन कार्ड,पासपोर्ट,जॉब कार्ड या पेंशन दस्तावेज, बैंक या पोस्ट ऑफिस की पास बुक, केंद्र या राज्य सरकार के सर्विस आईडी कार्ड, मनरेगा कार्ड, सांसद और विधायक व एमएलसी द्वारा जारी किए गए प्रमाण पत्र मान्य होंगे.