Breaking News देश -विदेश स्लाइडर

बड़ी खबर: कोरोना अस्पताल में लगी आग… 5 मरीजों की मौत…

राजकोट. गुजरात के राजकोट (Rajkot) स्थित एक कोविड फैसेलिटी हॉस्पिटल में शुक्रवार को आग लग गई, जिसमें 5 कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की मौत हो गई. मिली जानकारी के अनुसार राजकोट स्थित उदय शिवानंद अस्पताल में आग लगी, जहां कोरोना के 33 मरीज भर्ती थे. शुरुआती जानकारी के अनुसार माना जा रहा है कि अस्पताल में शॉर्ट सर्किट से आग लगी.

आग अस्पताल के आईसीयू यूनिट में लगी, जहां 11 मरीज भर्ती थे जिसमें से पांच की मौत हो गई है. म्युनिसिपल कमिश्नर उदित अग्रवाल के मुताबिक मामलें की जानकारी मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को दी गयी है और उन्होंने जांच के आदेश दिए हैं. बता दें बीते महीनों में अहमदबाद, जामनगर, वडोदरा और सूरत के भी अस्पतालों में आग लगने की घटनाएं हो चुकी हैं.



डीसीपी मनोज सिंह जडेजा के मुताबिक उदय शिवानंद कोविड अस्पताल में कुल 33 मरीजों का इलाज चल रहा था. 33 रोगियों में से 11 आईसीयू में भर्ती थे. आग आईसीयू में शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी थी. जिसकी वजह से आग से आईसीयू में इलाज कर रहे 11 में से 5 मरीजों की मौत हो गई है.

जानकारी दी गई कि अस्पताल के दूसरे तल्ले पर इलाज कर रहे दो मरीजों के साथ-साथ आईसीयू से बचाए गए छह अन्य लोगों को इलाज के लिए कुवाडवा रोड स्थित गोकुल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

शॉर्ट सर्किट के कारण आईसीयू में आग लग गई- नगर आयुक्त
घटना की सूचना मिलते ही नगर आयुक्त उदित अग्रवाल, पुलिस आयुक्त मनोज अग्रवाल, डिप्टी कलेक्टर चरण सिंह गोहिल, आपदा प्रबंधन अधिकारी प्रियांक सिंह, राजकोट शहर के महापौर बीनाबेन आचार्य, राजकोट शहर के भाजपा अध्यक्ष कमलेश मिरानी, राजकोट में विपक्ष के नेता वशराम सगथिया और अन्य नेता उदय शिवन अस्पताल पहुंचे.

नगर आयुक्त उदित अग्रवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने उनसे घटना के बाद टेलीफोन पर बातचीत की. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी द्वारा भी जांच का आदेश दिए गए हैं. इस घटना के लिए जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.



उदय शिवानंद कोविद अस्पताल के एक चिकित्सक डॉ. तेजस करमाता ने कहा, ‘पिछले सितंबर में हमारे अस्पताल को कोविड केयर शुरू करने की अनुमति दी गई थी. पूरी आगजनी की घटना सीसीटीवी पर कैद हो गई है. शॉर्ट सर्किट के कारण आईसीयू में आग लग गई.