छत्तीसगढ़ स्लाइडर

स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ जिला जेल पहुंचे कलेक्टर… कोरोना प्रसार को रोकने हेतु एहतियात के तौर पर जरूरी कदम उठाने के दिये निर्देश… स्वास्थ्य कर्मियों का उत्साहवर्धन कर जतायी कृतज्ञता…

बलरामपुर, पवन कश्यप-: कलेक्टर श्री श्याम धावड़े ने जिला जेल रामानुजगंज का निरीक्षण कर जेल अधीक्षक के साथ पूरे परिसर का भ्रमण करते हुए वस्तुस्थिति का जायजा लिया। जिला जेल में 25 कैदियों के कोरोना संक्रमित होने की सूचना मिलने के साथ ही तत्काल स्वास्थ्य विभाग टीम को समस्त बंदियों की कोरोना जांच के निर्देश उन्होंने दिए थे।

स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा जेल में सभी कैदियों का कोरोना जांच किया जा रहा है तथा संक्रमितों को आइसोलेट कर उनका उपचार प्रारंभ कर दिया गया है। जेल अधीक्षक श्री जी.एस.मरकाम ने कलेक्टर को बताया कि कोरोना संक्रमित कैदियों को अलग बैरक में रखा गया है तथा कोविड के मानकों के अनुसार ही उन्हें दवाईया तथा अन्य सामग्रियां उपलब्ध करायी जा रही है।

कलेक्टर श्री धावड़े ने कैदियों के लिए पर्याप्त मात्रा में मास्क उपलब्ध करवाने के साथ हाथ धोने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कैदियों से बात करते हुए जेल में भोजन के साथ उन्हें दिए जाने वाले अन्य सुविधाओं की भी जानकारी ली। कलेक्टर श्री श्याम धावड़े ने जिला जेल रामानुजगंज का निरीक्षण कर कैदियों में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए एहतियात के तौर पर सभी जरूरी उपाय करने के निर्देश दिये।

जेलअधीक्षक से उन्होंने कैदियों एवं बैरक की संख्यात्मक जानकारी ली। जिला जेल में वर्तमान में 468 कैदी है। कलेक्टर श्री श्याम धावडे़ ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए जेल अधीक्षक को निर्देशित किया कि यदि कोई कैदी मधुमेह, उच्च रक्तचाप तथा गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं उनकी विशेष देखभाल की जाये।

उन्होंनेकोरोना जांच कर रहे स्वास्थ्य विभाग के टीम की हौसला अफजाई की तथा उनके कार्यों की प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कहा कि वे भी अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें एवं पर्याप्त सुरक्षा मानकों का उपयोग करते हुए कार्य करें। कलेक्टर ने जेल अधीक्षक के कमरे में लगे सीसीटीव्ही से परिसर की गतिविधियों का अवलोकन किया तथा कैमरों के माध्यम से सतत निगरानी करने के निर्देश दिये।

इसके पश्चात् उन्होंने अनाज गोदाम, पाकशाला का निरीक्षण कर कैदियों को गुणवत्तापूर्ण भोजन देने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री धावड़े ने कहा कि परिसर की साफ-सफाई का खास ध्यान रखा जाये तथा जेल के कोरोना बैरक में कार्यरत कर्मियों को पीपीई किट उपलब्ध कराये ताकि उन्हें संक्रमण से बचाया जा सके। कैदियों से चर्चा के दौरान कलेक्टर ने उन्हें मेन्यू के अनुसार खाना मिलता है या नहीं उनकी जानकारी ली।

बीमार होने की स्थिति में स्वास्थ्य सुविधाएं मिलती हैं या नहीं इस बारे में पूछा। उन्होंने जेल अधीक्षक को जेल मैन्युअल के अनुसार कार्य करते हुए व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश दिये। इस अवसर पर उपसंचालक स्वास्थ्य सेवाएं डाॅ. नेतराम बेक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बसंत सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व रामानुजगंज श्री अभिषेक गुप्ता सहित स्वास्थ्य विभाग एवं जेल के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

विज्ञापन

loading…

हमसे जुड़ें

Do Subscribe

JOIN us on Facebook